'गुजरात बनेगा नई शिक्षा नीति लागू करने वाला पहला राज्य'

New education policy, Gujarat government, CM rupani, Governor of Gujarat: शिक्षक दिवस समारोह में

By: Pushpendra Rajput

Published: 05 Sep 2020, 09:12 PM IST

गांधीनगर. राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 (national education policy) लागू करने वाला गुजरात (Gujarat) देश का पहला राज्य बनाने की दिशा में कवायद शुरू कर दी है। इसके लिए खाका तैयार करने की टीम गठित कर दी गई है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (CM vijay rupani) शनिवार को गांधीनगर में 44 श्रेष्ठ शिक्षकों (best teacher) और गुरुओं को अवार्ड सम्मान समारोह में यह बात कही।
रुपाणी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM narendra modi) ने आत्मनिर्भर भारत-नया भारत (atma nirbhar bharat) के निर्माण के संकल्प के साथ नई शिक्षा घोषित की है। ऐसे में इस नीति का सबसे पहले गुजरात अमल करे यह शिक्षकों की जिम्मेदारी है। इस शिक्षा नीति में शिक्षकों की सजगता को भी अहमियत दी गई है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का अनुवाद गुजराती में कर लिया गया है और शीघ्र ही गुजरात में यह नीति लागू करने का खाका तैयार करने के लिए कार्यबल बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस खाका के आधार पर राज्य शिक्षा में आमूल-चूल परिवर्तन किया जाएगा। यह बदलाव प्राथमिक से माध्यमिक और उच्च शिक्षा तक होगा।
इस मौके पर राज्य के शिक्षामंत्री भूपेन्द्रसिंह चूड़ास्मा ने कहा कि नई शिक्षा नीति के लिए देश में सबसे पहली बार गुजरात ने स्थानीय भाषा में नीति का अनुवाद किया। इसके लिए भारतीय शिक्षा प्रशिक्षण संस्थान (आईआईटीई-गांधीनगर) जो प्रयास किया है वह सराहनीय है। उन्होंने आईआईटीई के वाइस चांसलर डॉ. हर्षद पटेल का आभार जताया।
इस समारोह में राज्यपाल आचार्य देवव्रत, शिक्षा राज्यमंत्री विभावरी दवे एवं शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned