वाइब्रेंट गुजरात से पहले गुजरात की नई टेक्सटाइल नीति

-नीति को लेकर गांधीनगर में एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित

By: Uday Kumar Patel

Published: 25 Nov 2018, 10:51 PM IST

 

गांधीनगर. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि वाइब्रेंट गुजरात वैश्विक निवेशक सम्मेलन से पहले राज्य की टेक्सटाइल नीति घोषित की जाएगी।
गुजरात टेक्सटाइल नीति 2012 की समय सीमा अब पूरी हो चुकी है। इसलिए अगले वर्ष जनवरी में वाइब्रेंट गुजरात से पहले इसकी घोषणा होगी।
नीति को लेकर गांधीनगर में एक उच्चस्तरीय बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में सीएम ने राज्य सरकार के वरिष्ठ सचिवों व टेक्सटाइल उद्योग से जुड़े उद्योगपतियों, व्यापारियों के साथ विचार-विमर्श किया और इनके सुझाव भी सुने। उन्होंने नई नीति में सभी मुद्दों को शामिल करने का निर्देश व मार्गदर्शन दिया।
रूपाणी ने कहा कि गुजरात टेक्सटाइल क्षेत्र का हब और वैश्विक स्पर्धा में गुजरात का टेक्सटाइल क्षेत्र आगे रहेगा।
इस बैठक में ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल, मुख्य सचिव डॉ. जे. एन. सिंह, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अरविंद अग्रवाल, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव व उद्योग विभाग के प्रधान सचिव मनोज कुमार दास, उद्योग आयुक्त ममता वर्मा व टेक्सटाइल उद्योग के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

वाइब्रेन्ट गुजरात सम्मेलन: सीएम रूपाणी का मुंबई में रोड शो

अहमदाबाद. अगले वर्ष जनवरी में आयोजित होने वाले वाइब्रेन्ट गुजरात सम्मेलन को लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी सोमवार को मुंबई में रोड शो आयोजित करेेंगे। वे सोमवार को 15 से ज्यादा बिजनेस लीडर्स के साथ-साथ अग्रणी उद्योगपतियों के साथ विचार-विमर्श करेंगे।
रूपाणी वाइब्रेंट गुजरात 2019 की विशेषताओं तथा गुजरात की विभिन्न उपलब्धियों के बारे में जानकारी देंगे।
मुख्यमंत्री के नेतृत्व में गुजरात का उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल मुंबई में करीब 20 देशों के महावाणिज्य दूत के साथ भी बैठक करेगा। इस बैठक में राज्य के मुख्य सचिव डॉ. जे. एन. सिंह सहित उद्योग, वित्त सहित विभाग के वरिष्ठ सचिव भी उपस्थित रहेंगे।
मुंबई के एक दिवसीय दौरे पर रूपाणी मुंबई में बसने वाले कच्छी समाज के उद्योगपतियों-व्यापारियों के साथ भी बैठक करेंगे। कच्छ में अकाल की परिस्थिति से निपटने के लिए राज्य सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी देंगे।
इससे पहले सीएम ने नई दिल्ली में वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन का रोड शो आयोजित किया था। अगले वर्ष 18 से 20 जनवरी तक महात्मा मंदिर में आयोजित होने वाले इस सम्मेलन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे।

Uday Kumar Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned