लावारिस मिली प्रियांशी को लिया जा सकेगा दत्तक

Omprakash Sharma

Publish: May, 17 2018 10:33:17 PM (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
लावारिस मिली प्रियांशी को लिया जा सकेगा दत्तक

ऑनलाइन प्रक्रिया होगी शुरू

वडोदरा. शहर के मांजलपुर क्षेत्र स्थित आटलादरा वेराई माता के मंदिर के चबूतरे से गत २४ दिसम्बर को लावारिस मिली डेढ़ वर्षीय प्रियांशी को अब दत्तक लिया जा सकेगा। इसके लिए प्रक्रिया शुरू की जाएगी। पूर्व में भी सोशल मीडिया पर बालिका के संबंध में काफी जानकारी दी गई थी लेकिन उसके अभिभावकों का पता नहीं चल पाया था।
मांजलपुर क्षेत्र में सब्जी बेचने वाले कौशिक गांधी नामक युवक को चार माह पूर्व २४ दिसम्बर को शहर के आटलादरा मंदिर के ओटला पर गर्म चादर में लिपटी हुई एक बालिका लावारिस अवस्था में मिली थी। युवक ने इस संबंध में मांजलपुर पुलिस को सूचित किया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने बालिका के अभिभावकों की जांच की लेकिन नहीं मिली। जिसके बाद बालिका को शहर के शिशुगृह में ले जाया गया। जहां उसका पालनपोषण किया जा रहा है। हाल में शिशुगृह में रह रही बालिका का नाम प्रियांशी दिया गया। प्रियांशी को लेकर सोशल मीडिया पर भी खूब जानकारी वायरल की गई लेकिन अभिभावकों का पता नहीं चल सका। बालिका के फोटो देखकर देश-विदेश से उसे दत्तक लेने की पेशकश की गई। कानूनी प्रकिया आड़े आने से उसे गोद नहीं लिया जा सका। तीन माह अर्थात नब्बे दिन बाद भी अभिभावकों का पता नहीं चलने पर अब बालिका को दत्तक देने का मार्ग खुल गया है। बाल सुरक्षा विभाग के सूत्रों के अनुसार कानूनी प्रक्रिया पूर्ण कर उसे दत्तक दिया जा सकेगा। केन्द्र सरकार की कारा नामक वेबसाइट के माध्यम से दत्तक के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया होगी। शिशुगृह में रहने वाले प्रियांशी समेत अन्य कुछ बच्चों को भी दत्तक के लिए अॅानालाइन प्रक्रिया की जाएगी। बच्चों का डेटा वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। गौरतलब है कि अब लावारिस बच्चों को गोद लेने की प्रक्रिया ऑनलाइन जारी है। गोद लेने के इच्छुक भारत सरकार की कारा नामक वेबसाइट पर पेशकश कर सकते हैं। नियम के मुताबिक वे इसका लाभ ले सकते हैं।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned