रेलवे स्टेशनों पर ऑनलाइन यूटीएस एप

रेलवे स्टेशनों पर ऑनलाइन यूटीएस एप

Pushpendra R.Singh Rajput | Publish: Sep, 16 2018 10:07:12 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 10:07:13 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

मोबाइल टिकटिंग को लेकर रेलवे ने प्रत्येक आर-वैलेट रिचार्ज पर 5 प्रतिशत बोनस

अहमदाबाद पश्चिम रेलवे के अहमदाबाद, वडोदरा और राजकोट मंडल के रेलवे स्टेशनों पर सोमवार से यूटीएस ऑन लाइन मोबाइल एप की शुरूआत होगी।
पश्चिम रेलवे के उपनगरीय स्टेशनों पर मोबाइल टिकटिंग पहले से ही उपलब्ध है। हेल्पलाइन नंबर 138 पर प्रशिक्षित कर्मचारी यात्रियों की समस्या के निवारण के लिए उपलब्ध होंगे।
इस ऑनलाइन यूटीएस एप को शुरू करने का उद्देश्य यात्रियों को डिजिटल टिकटिंग से जोडऩा है। मोबाइल टिकटिंग को लेकर रेलवे ने प्रत्येक आर-वैलेट रिचार्ज पर 5 प्रतिशत बोनस देने की घोषणा की गई है। पश्चिम रेलवे ने यात्रियों से यूटीएस मोबाइल टिकटिंग एप अपनाने का आग्रह किया है।
यूटीएस एप की ये प्रमुख विशेषताएं, जिसमें एंड्रॉयड, आईओएस तथा विंडो आधारित स्मार्ट फ़ोन पर गूगल प्ले स्टोर से नि:शुल्क डाउनलोड किया जा सकता है। सभी अनारक्षित एवं सीजऩ टिकट बुक किए जा सकते हैं। 'क्विक बुकिंगÓ विकल्प के साथ सरल एप है। स्टेशन परिसरों मे टिकट बुकिंग के लिए क्यूआर कोड स्कैन विकल्प (सभी प्रवेश द्वारों पर क्यूआर कोड स्टीकर उपलब्ध है) पेपरलेस एवं पेपर टिकट दोनों के विकल्प उपलब्ध (एटीवीएम अथवा बुकिंग खिड़कियों के माध्यम से)। समर्पित कस्टमर केयर नंबर 138 उपलब्ध। किसी भी उपनगरीय बुकिंग खिड़की अथवा पेटीएम, मोबीक्विक, फ्री चार्ज सहित इनबिल्ट 'आर-वैलेटÓ के माध्यम से रिचार्ज किए जा सकते हैं। 'आर-वैलेटÓ किसी भी उपनगरीय टिकट बुकिंग खिड़की के साथ-साथ किसी भी डेबिट कार्ड, नेट बैकिंग अथवा यूपीआई मोड से वेबसाइट से ऑनलाइन रिचार्ज कराया जा सकता है। प्रत्येक 'आर-वैलेटÓ रिचार्ज पर 5 प्रतिशत का अतिरिक्त बोनस ट्रेवल वैल्यू देय है।

अहमदाबाद-आगरा फोर्ट ट्रेन दौड़ेगी ग्वालियर तक
- ट्रेन के विस्तार में भारतीय उपभोक्ता संरक्षण समिति की भी अहम भूमिका
अहमदाबाद. अहमदाबाद-आगरा फोर्ट ट्रेन को अगले सप्ताह से ग्वालियर तक दौडऩे की घोषणा हो चुकी है। इस ट्रेन को आगरा फोर्ट से ग्वालियर बढ़वाने में भारतीय उपभोक्ता संरक्षण समिति ने भी अहम भूमिका निभाई है। समिति की ग्वालियर शाखा के अध्यक्ष रामसेवक गुप्ता इस ट्रेन को ग्वालियर तक बढ़ाने के लिए वर्ष 2013 से प्रयासरत रहे। उन्होंने रेल मंत्री से लेकर रेल मंत्रालय और उत्तर-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक तक पत्र भी लिखे। अब इस ट्रेन को ग्वालियर तक बढ़ाए पर सभी का आभार जताया है।
उन्होंने अब रेल प्रशासन से दो बच्चों का आधे-आधे टिकट को एक टिकट मानकर एक बर्थ आवंटित करने की भी मांग की है। उन्होंने कहा कि इससे रेल प्रशासन को किसी भी प्रकार की धन क्षति भी नहीं होगी और उपभोक्ता पर भी अनाधिकृत भार नहीं पड़ेगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned