अहमदाबाद के सिविल अस्ताल में यूपी के श्याम को मिली गंभीर चोट से मुक्ति

सड़क हादसे में टूट गया था रीढ़ की हड्डी का ऊपरी हिस्सा

By: Omprakash Sharma

Published: 11 Jan 2021, 10:00 PM IST

अहमदाबाद. उत्तर प्रदेश के अयोध्या निवासी श्याम को अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में आखिरकार गंभीर समस्या से मुक्ति मिल गई। 22 वर्षीय यह युवक पिछले दिनों सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गया था। रीढ़ की हड्डी के ऊपरी हिस्से (गर्दन के भाग) के फ्रेक्चर के चलते श्याम व उसके परिजन काफी संकट में फंस गए थे क्योंकि यूपी के सरकारी और गैर सरकारी कई अस्पतालों के चक्कर लगाने के बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ। अन्तत: चोटिल को अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में लाया गया जहां उसे समस्या से मुक्ति मिल सकी।
अयोध्या से अहमदाबाद सिविल अस्पताल लाने पर श्याम के विविध टेस्ट किए गए। जिसमें पाया गया था कि गर्दन से जुड़ा हुआ रीढ़ की हड्डी का ऊपरी हिस्सा डेमेज हो गया थाा। जिसमें तत्काल ऑपरेशन करने का निर्णय लिया। अस्पताल की ऑर्थोपेडिक विभाग की टीम ने यह ऑपरेशन किया। श्याम का ऑपरेशन करने वाले एवं अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जयप्रकाश मोदी ( ऑर्थोपेडिक विभागाध्यक्ष) ने बताया कि गर्दन के भाग में चोट इतनी गंभीर थी कि श्याम की नसें दब गईं थीं। जिससे श्याम के हलन चलन बंद होने की भी आशंका थी। डॉ. मोदी ने कहा कि मरीज को ठीक करने के लिए ऑपरेशन ही एक विकल्प था। हालांकि यह काफी रिस्की होता है क्योंकि जहां ऑपरेशन किया गया है उसके नजदीक ही छोटा मस्तिष्क है। न्यूरो संबंधित चिकित्सकों की देखरेख में यह ऑपरेशन किया गया। चिकित्सकों के अथक परिश्रम से श्याम नामक यह युवक स्वस्थ हो गया है। यह ऑपरेशन निशुल्क किया गया है। निजी अस्पतालों में इस तरह के ऑपरेशन का खर्च लाखों रुपए हो सकता है।

कोरोना काल में रीढ़ की हड्डी संबंधित 220 ऑपरेशन किए

सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जयप्रकाश मोदी ने बताया कि कोरोना काल जैसी विपरीत परिस्थितियों में भी सिविल अस्पताल में गंभीर अॅपरेशन किए गए हैं। रीढ़ की हड्डी संबंधित ऑपरेशन गंभीर श्रेणी में ही आते हैं। कोरोना काल में इस तरह के 220 ऑपरेशन अस्पताल में किए गए हैं। इसके अलावा कोरोना काल में अन्य तरह के ऑपरेशन भी किए गए।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned