हिम्मतनगर. पाटण जिले की सरस्वती तहसील के अघार गांव में कुंवारिका माताजी के परम्परागत लोकमेले में बुधवार को बड़ी संख्या में लोग उमड़े। पाटण शहर के समीप अघार गांव में पटेल मोहल्ला से कुंवारिका माताजी की रथयात्रा निकाली गई।
मंदिर में आरती के बाद माताजी की मूर्ति को रथ में विराजमान किया गया। बड़ी संख्या मेंं श्रद्धालुओं ने दर्शन का लाभ लिया। विभिन्न मार्गों पर घूमकर रथयात्राा तालाब किनारे स्थित पालेश्वर महादेव मंदिर पहुंची। रात्रि विश्राम के बाद गुरुवार को माताजी की मूर्ति को पुन: निज मंदिर में स्थापित किया जाएगा।


श्रीफल व जलती सिगड़ी के साथ दर्शन करने पहुंची महिलाएं
पुत्र जन्म की मन्नत पूरी करने के लिए महिलाएं रूमाल से दोनों हाथ बांधकर उसमें श्रीफल रखकर कुंवारिका माताजी के मंदिर पहुंची। वहां माताजी को शीश झुकाकर श्रीफल बधारकर मन्नत पूरी की। अनेक महिलाओं ने सिर पर सुलगती सिगड़ी रखकर माताजी के मंदिर पहुंचकर दर्शन किए।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned