सभी क्षेत्रों के सेेलिब्रिटीज से भी संपर्क की योजना : परांडे

राम मंदिर निर्माण के लिए मकर संक्रांति से देशभर में संपर्क व निधि संग्रह अभियान...

वीएचपी के राष्ट्रीय महामंत्री बोले : देश के 4 लाख, गुजरात के सभी 19 हजार गांवों में 28 फरवरी तक समाज के सभी वर्गों में करेंगे संपर्क

By: Rajesh Bhatnagar

Published: 09 Jan 2021, 12:43 AM IST

राजेश भटनागर

अहमदाबाद. विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के राष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने कहा कि अयोध्या में रामजन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए मकर संक्रांति से शुरू होने वाले संपर्क व निधि संग्रह अभियान में देशभर के सभी क्षेत्रों के सेलिब्रिटीज से भी संपर्क की योजना है।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) एवं विभिन्न समविचारी संगठनों की तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक में हिस्सा लेने आए परांडे ने पत्रिका से टेलिफोनिक विशेष भेंट में शुक्रवार को यह जानकारी दी। परांडे ने कहा कि मकर संक्रांति पर आगामी 15 जनवरी से शुरू होने वाले अभियान में देशभर में हर क्षेत्र के सेलिब्रिटीज से संपर्क करने की योजना है। इनमें राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से भी मुलाकात करने की इच्छा है।
राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट की ओर से उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए रामजन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि संग्रह समिति के मार्गदर्शन में गुजरात के सभी 19 हजार गांवों में मिलकर कम से कम 1 करोड़ परिवारों से संपर्क करने का लक्ष्य है। पूरे देश के 4 लाख से अधिक गांवों में 11 करोड़ लोगों से संपर्क किया जाएगा।
सभी राज्यों में अलग-अलग दिन यानी कहीं 14 और कहीं 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाएगी, इसलिए अभियान की शुरुआत की 14 व 15 जनवरी को की जाएगी। आगामी 27 फरवरी को माघ पूर्णिमा तक चलने वाले अभियान के दौरान समाज के सभी वर्गों से संपर्क किया जाएगा, सुदूरवर्ती ग्रामीण वनवासी क्षेत्रों, पहाड़ों में वनवासी क्षेत्रों में भी जाएंगे। संपर्क व धन संग्रह अभियान के तहत केवल हिन्दू समाज से संपर्क के लिए जाएंगे लेकिन, राम को भगवान मानकर सहयोग देने वाले हर समाज के हर व्यक्ति से धन लिया जाएगा।

सामाजिक परिवर्तन की मिसाल बनेगा मंदिर

सामाजिक समरसता की दृष्टि में भगवान राम का जीवन रहा है। शबरीमाता, निषादराज सहित सभी समाज में भगवान राम ने प्रेम से संपर्क किया, इसलिए उनका जीवन संपूर्ण हिन्दू समाज के लिए एक आदर्शभूत है। इसलिए मंदिर निर्माण सामाजिक परिवर्तन के लिए संपूर्ण देश में एक मिसाल बनेगा। राम मंदिर आस्था-भक्ति का भी प्रतीक है। सामाजिक परिवर्तन के लिए आवश्यक मार्गदर्शन देने वाला भी यह मंदिर रहेगा, इसलिए स्वाभिमान का भी प्रतीक है।

विश्व के इतिहास में सबसे दीर्घकाल का संघर्ष रहा

ना केवल देश में बल्कि, विश्व के इतिहास में सबसे दीर्घकाल का संघर्ष रहा है, पांच शताब्दियों से हिन्दू समाज ने संघर्ष किया है, लाखों लोगों का बलिदान हुआ है, मंदिर निर्माण के लिए हिन्दू समाज की ओर से अथक प्रयत्न किए गए। संपर्क अभियान के दौरान इस विषय को भी लोगों को समक्ष रखा जाएगा।

डेढ़ एकड़ भूमि पर मंदिर के गर्भगृह में ढाई-तीन वर्षों में भगवान राम को बिठाने का रहेगा प्रयास

उन्होंने कहा कि मंदिर के गर्भगृह में अगले ढाई-तीन वर्षों में भगवान राम को बिठाने का प्रयास रहेगा। कुल 70 एकड़ भूमि पर मंदिर परिसर बनेगा। मंदिर तो प्रत्यक्ष डेढ़ एकड़ भूमि पर और आस-पास के परकोटे सहित 6 एकड़ भूमि पर मंदिर बनेगा। उन्होंने आत्मविश्वास जताते हुए कहा कि मंदिर के निर्माण का जो भी बजट बनेगा, उसके हिसाब से संपूर्ण खर्च हिन्दू समाज देगा। ट्रस्ट की ओर से करवाए जा रहे मंदिर निर्माण में विहिप केवल मदद कर रही है, सैंकड़ों करोड़ रुपए खर्च होने की संभावना है।

पंजीकृत है ट्रस्ट, आयकर में छूट का प्रावधान

ट्रस्ट पंजीकृत है, प्रतिवर्ष ऑडिट होता है, कोई भी आकर खाते देख सकता है। पूर्णतया पारदर्शिता रखी गई है। इस अभियान में भी आर्थिक पारदर्शिता के लिए ट्रस्ट की ओर से 10, 100, 1000 रुपए के कूपन, रसीदबुक, ऑनलाइन दान की व्यवस्था की है। पंजीकृत न्यास होने के कारण दान पर आयकर अधिनियम के तहत छूट का भी प्रावधान है। अभियान की समिति के लिए सूरत के हीरा व्यवसायी गोविंदभाई धोलकिया-पटेल को गुजरात क्षेत्र का अध्यक्ष बनाया गया है। अभियान में विहिप की ओर से सहयोग किया जाएगा।

वर्ष 1989 में मिले दान से 50 प्रतिशत पत्थरों की घड़ाई

वर्ष 1989 में भी लोगों ने सवा-सवा रुपए का दान दिया था। उसका भी हिसाब जमा करवाया गया है, उसी कारण से 50 प्रतिशत से अधिक पत्थरों की घड़ाई भी पूरी हो चुकी है। उस समय का भी संपूर्ण हिसाब उपलब्ध है, पूरी पारदर्शिता बरती गई है।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned