'कुल्हड़ के उपयोग से रोजगार बढ़ेगा रोजगार, प्लास्टिकमुक्त भी होगा भारत'

plastic free, kullhad, employment, home minister, amit shah; गांधीनगर के प्रत्येक गांव में मिट्टी के कारीगरों को मिलेंगे ई-चाक

By: Pushpendra Rajput

Updated: 08 Oct 2021, 08:50 PM IST

गांधीनगर. केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की मौजूदगी में गांधीनगर कैपिटल रेलवे स्टेशन पर महिला स्वयं सहायता समूह संचालित 'टी स्टॉलÓ का लोकार्पण करते कहा कि मिट्टी के कुल्हड़ों का उपयोग रोजगार के साथ-साथ प्लास्टिक प्रदूषणमुक्त भारत की दिशा में महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। मिट्टी कार्य से जुड़े महिला स्वयं सहायता समूहों की ओर से तैयार चाय कुल्हड़ों और विभिन्न मिट्टी की वस्तुएं खरीदने की व्यवस्था कर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।

उन्होंने मिट्टी कार्य से जुड़े गांधीनगर के प्रत्येक गांवों के कारीगरों और स्वयं सहायता समूहों को इलैक्ट्रोनिक चाक (चाकडा) मुहैया कराने के लिए जिला कलक्टर को आदेश दिए। साथ ही मिट्टी कार्य के व्यवसाय से विमुख होने वाले परिवारों को फिर से इस व्यवसाय से जुड़कर प्रदूषणमुक्त भारत के संकल्प को सिद्ध करने का आह्वान किया।

महिला स्वयं सहायता समूह संचालित टी स्टॉल के लोकार्पण के प्रथम दिन से ही मिट्टी के कुल्हड़ों के ऑर्डर मिलना प्रारंभ हो गए। इसके मद्देनजर शुक्रवार को पालनपुर रेलवे स्टेशन से पांच हजार मिटटी की कुल्हड़ों के आर्डर गृहमंत्री शाह ने टी - स्टॉल की महिलाओं को अर्पित किए। गृहमंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल समेत कई गणमान्यों ने टी स्टॉल से मिट्टी के कुल्हड़ों में चाय-कॉफी की चुस्की ली।

इस मौके पर गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के. कैलाशनाथन, जिला कलक्टर कुलदीप आर्य, रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ ) एवं पुलिस के जवानों उपस्थित थे।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned