दुनिया के देश भारत पर कर रहे भरोसा, यही नए भारत की छटा: मोदी

PM Narendra Modi, Azadi ka amrit mahotsav, Ahmedabad, Sabarmati ashram पीएम ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से आजादी के अमृत महोत्सव का कराया आगाज, दांडी यात्रा को भी झंडी दिखाकर कराया प्रस्थान

By: nagendra singh rathore

Published: 12 Mar 2021, 11:08 PM IST

अहमदाबाद. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आज भारत के पास वैक्सीन (कोरोना टीका) का सामथ्र्य है, तो वसुधैव कुटुंबकम के भाव से हम सबके दुख दूर करने में काम आ रहे हैं। यही भारत के आदर्श हैं। यही भारत का शाश्वत दर्शन है, यही आत्मनिर्भर भारत का तत्वज्ञान है। आज दुनिया के देश भारत का धन्यवाद कर रहे हैं। भारत पर भरोसा कर रहे हैं यही नए भारत के सूर्योदय की पहली छटा है। यही हमारे भव्य भविष्य की पहली आभा है।
पीएम मोदी शुक्रवार को अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से देश की आजादी की ७५वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे आजादी के अमृत महोत्सव के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे।
यह महोत्सव १५ अगस्त २०२२ से ७५ सप्ताह पूर्व (१२ मार्च २०२१ को) शुरू हुआ है और १५ अगस्त २०२३ तक चलेगा। उन्होंने इस दौरान सात जगहों पर डिजिटल तरीके से प्रदर्शनियों का उद्घाटन किया। खुद भी उन्हें निहारा। अहमदाबाद में मुख्य कार्यक्रम के दौरान उन्होंने साबरमती आश्रम से दांडी (नवसारी) तक निकाली जा रही दांडी पदयात्रा को भी हरी झंडी दिखाई। इस यात्रा में 81 यात्री साबरमती आश्रम से रवाना हुए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'आजादी का अमृत महोत्सव' वेबसाइट को भी शुरू किया।

आजादी का अमृत महोत्सव यानि आत्मनिर्भरता का अमृत
पीएम ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव यानि आत्मनिर्भरता का अमृत। नए विचारों का, नए संकल्पों का अमृत, आजादी की ऊर्जा का अमृत। स्वतंत्रता सैनानियों से प्रेरणाओं का अमृत है।

पांच स्तंभ देश को करेंगे प्रेरित
मोदी ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम, 75 पर विचार, 75 पर उपलब्धियां, 75 पर कार्य और ७५ पर संकल्प- ये पांच स्तंभ देश को आगे बढऩे के लिए प्रेरित करेंगे।

भारत में नमक ईमानदारी का प्रतीक
पीएम ने कहा कि हमारे यहां नमक को कभी उसकी कीमत से नहीं आंका गया। हमारे यहां नमक का मतलब है- ईमानदारी। हमारे यहां नमक का मतलब है- विश्वास। हमारे यहां नमक का मतलब है- वफादारी। पीएम मोदी ने कहा कि हम आज भी कहते हैं कि हमने देश का नमक खाया है। ऐसा इसलिए नहीं क्योंकि नमक कोई बहुत कीमती चीज है। ऐसा इसलिए क्योंकि नमक हमारे यहां श्रम और समानता का प्रतीक है।

गांव-गांव में वीर सपूतों का इतिहास
पीएम ने कहा कि गांव-गांव में मां भारती के वीर सपूतों का इतिहास है। हमारे महानायकों, महानायिकाओं का जीवन-इतिहास भी देश के सामने पहुंचाना है। इसके लिए उन्होंने स्कूल-कॉलेजों, विश्वविद्यालयों से प्रोग्राम आयोजित करने की अपील की। देश ने इसके लिए बीते छह सालों से सजग प्रयाग शुरू किए हैं। उन्होंने देश के स्वतंत्रता सैनानियों और आजाद भारत के निर्माताओं के योगदान, बलिदान, शौर्य को भी याद किया।

PM Narendra Modi
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned