प्रधानमंत्री ने कहा: रात्रि curfew की जगह हो कोरोना curfew का इस्तेमाल

PM narendra modi, curfew, corona pandemic, RT-PCR : प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्री रुपाणी की समीक्षा बैठक, हररोज चार हजार के बजाय छह हजार करेंगे आरटीपीसीआर टेस्ट: रुपाणी

By: Pushpendra Rajput

Published: 10 Apr 2021, 09:09 PM IST

गांधीनगर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ विडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक कर कोरोना की परिस्थिति और टीकाकरण की रणनीति की विस्तृत समीक्षा करते हुए कोरोना नियंत्रण के लिए लागू रात्रि कफ्र्यू की जगह कोरोना कफ्र्यू शब्द का इस्तेमाल करते हुए नागरिकों से संयमित व्यवहार एवं अच्छी आदतों को अपनाने पर जोर दिया।
उन्होंने 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों का टीकाकरण सुनिश्चित करने की इस दिशा में सभी वर्गों से प्रयास करने का अनुरोध किया। मोदी ने अगले दो से तीन सप्ताह तक और ज्यादा कड़ाई अपनाने की आवश्यकता पर जोर दिया और सभी राज्यों को टेस्टिंग पर विशेष ध्यान केंद्रित करने का अनुरोध किया।

गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात ने कोरोना को बहुत तेजी से नियंत्रित करने के लिए टेस्टिंग, ट्रेकिंग और ट्रीटमेंट की रणनीति पर विशेष ध्यान केंद्रित किया है। गुजरात में प्रतिदिन औसत एक लाख से अधिक टेस्ट किए जा रहे हैं, जिसमें लगभग 40,000 आरटी-पीसीआर टेस्ट शामिल हैं। उन्होंने कहा कि मार्च महीने की शुरुआत में प्रतिदिन लगभग 8000 आरसी-पीसीआर टेस्ट किए जा रहे थे, जिसे आज 40,000 तक पहुंचाया गया है। गुजरात का लक्ष्य आगामी दिनों में प्रतिदिन करीब 60,000 आरसी-पीसीआर टेस्ट करने का है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों का गहन उपचार हो रहा है। विगत एक सप्ताह के दौरान गुजरात में लगभग 10 हजार अतिरिक्त नए बिस्तर उपलब्ध कराए गए हैं, जिसमें से 1500 ऑक्सीजन वाले बिस्तर और करीब 1000 आईसीयू बिस्तर बढ़ाए गए हैं।

PM Narendra Modi
Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned