भारत 5 साल में दो गुनी करेगा ऑयल रिफायनिंग की क्षमता: पीएम मोदी

PM Narendra Modi, PDPU convocation, Oil refining capacity double, energy university, पीडीपीयू के आठवें दीक्षांत समारोह में पीएम ने की अहम घोषणा, ऊर्जा जरूरत में नेचुरल गैस की हिस्सेदारी दशक में चार गुना बढ़ेगी

By: nagendra singh rathore

Published: 21 Nov 2020, 09:42 PM IST

अहमदाबाद. भारत की ऑयल रिफायनिंग क्षमता आगामी पांच साल में दोगुनी की जाएगी। भारत सरकार इस पर काम कर रही है। यह अहम घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार सुबह गांधीनगर स्थित पंडित दीन दयाल पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी (पीडीपीयू) के आठवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए की।
पीएम मोदी ने कहा कि 'देश की ऑयल रिफायनिंग कैपेसिटी को आने वाले पांच सालों में करीब-करीब दो गुना करने के लिए काम किया जा रहा है। इसमें भी अनेक संभावनाएं हैं।'
उन्होंने कहा कि इस दशक में भारत अपनी ऊर्जा जरूरतों में नेचुरल गैस (प्राकृतिक गैस) की हिस्सेदारी को चार गुना तक बढ़ाएगा। इसमें भी विद्यार्थियों के लिए अनेक-अनेक संभावनाएं हैं।
पीएम ने देश के कार्बन फुटप्रिंट को ३० से ३५ प्रतिशत तक कम करने के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ रहे होने की बात कही।
पीडीपीयू के आठवें दीक्षांत समारोह में २६०८ विद्यार्थियों को डिग्री-डिप्लोमा प्रदान किए गए। ४६ से ज्यादा को पीएचडी और ७७ विद्यार्थियों को मेडल प्रदान किए गए।
मुख्यमंत्री विजय रूपाणी अतिथि विशेष के रूप में और पीडीपीयू के बोर्ड ऑफ गर्वनर्स के प्रेसिडेंट एवं रिलाइंस इंडस्ट्रीज प्रेसिडेंट मुकेश अंबानी समारोह के अध्यक्ष के रूप में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उपस्थित रहे। इसके अलावा स्टेंडिंग कमेटी चेयरमैन डी राजगोपालन, विवि के डीजी डॉ. सुंदर राजन भी उपस्थित रहे।

एनर्जी यूनिवर्सिटी करने का सुझाव
गांधीनगर स्थित पीडीपीयू का नाम पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी की जगह एनर्जी यूनिवर्सिटी करने का सुझाव भी पीएम नरेन्द्र मोदी ने गुजरात सरकार को दिया। जरूरत पडऩे पर इसके लिए कानून में बदलाव करने को भी कहा।

पीडीपीयू में ५ प्रोजेक्ट का शिलान्यास, उद्घाटन
पीडीपीयू में मोनोक्रिस्टलाइन सोलर फोटो वोल्टाइक पैनल के ४५ मेगावॉट के उत्पादन संयत्र, जल प्रौद्योगिकी उत्कृष्टता केन्द्र की आधारशिला रखी। जबकि विवि में टेक्नोलॉजी बिजनेस इन्क्यूबेटर, स्पोट्र्स कॉम्पलैक्स और ट्रांसलेशन रिसर्च सेंटर का उद्घाटन किया।

ये अहम बातें भी कहीं
-देश की एनर्जी सिक्योरिटी से जुड़े स्टार्टअप सिस्टम को मजबूत करने पर भी काम हो रहा है। एक विशेष फंड भी बनाया गया है।
-पीएम ने गुजराती में गुजरातवासियों को दी नववर्ष की शुभकामनाएं।
-इस दशक में सिर्फ ऑयल एंड गैस सेक्टर में ही लाखों करोड़ रुपए का निवेश होने वाला है। रिसर्च से लेकर मैन्युफैक्चरिंग तक अवसर हैं।
-ऐसे समय में ग्रेजुएट होना जब पूरी दुनिया इतने बड़े संकट से जूझ रही है। यह कोई आसान बात नहीं है।
-आप की ताकत, आपकी क्षमताएं इन चुनौतियों से भी कई ज्यादा बड़ी हैं। इस विश्वास को खोना मत।
-प्रोबलेम क्या है इससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है आपका पर्पज क्या है, प्रिफरेंस क्या है और प्लान क्या है। जरूरी है आपके पास एक पर्पज हो, प्रिपरेंसिस तय हों और उसके लिए बहुत परफेक्ट प्लान भी हो।
-जो चुनौतियों को स्वीकार करता है, उसका मुकाबला करता है। उसे हराता है। समस्याओं का समाधान करता है। जिंदगी में वही सफल होता है।

PM Narendra Modi
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned