नमी के कारण नहीं बिकी मूंगफली, किसानों में रोष

कालावड में किसानों ने किया चक्काजाम, Groundnut, Support Price, Jamnagar District, Ahmedabad News, Gujrat News

जामनगर. बे-मौसमी बारिश के बाद जिले के कुछ सेंटरों पर मंगलवार से शुरू हुई मूंगफली की समर्थन मूल्य पर खरीदी के साथ ही विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है। मूंगफली में नमी को लेकर कालावाड कृषि उपज बाजार समिति (एपीएमसी) सेंटर में मूंगफली स्वीकार नहीं की तो किसानों ने चक्काजाम करते हुए प्रदर्शन किया है। इसके अलावा, जामजोधपुर में सरकारी नियमों के विरुद्ध किसानों ने रोष व्यक्त किया।


जानकारी के अनुसार बे-मौसमी बारिश व 'महाÓ चक्रवात के चलते गुजरातभर में समर्थन मूल्य पर मूंगफली की खरीदी स्थगित की गई थी। इसबीच मौसम साफ होने से सोमवार को अधिकतर स्थलों पर समर्थन मूल्य पर मूंगफली की खरीदी शुरू हो गई।
जिले की कालावड तहसील के एपीएमसी में मूंगफली खरीदी शुरू होने के साथ ही सरकारी अधिकारियों ने नमी को लेकर मूंगफली अस्वीकार कर दी थी, जिससे आक्रोशित किसानों ने चक्काजाम करते हुए विरोध व्यक्त किया। जामनगर-राजकोट हाईवे पर रास्ते पर बैठकर किसानों ने आक्रोश व्यक्त किया।


यहां मूंगफली बेचने के लिए पहुंचे ३० किसानों में से २६ किसानों की मूंगफली में नमी दिखाई दी तो तहसीलदार आस्थाबेन सहित सरकारी अधिकारियों ने किसानों की मूंगफली स्वीकार नहीं की गई।


ऐसे में किसानों का कहना है कि बे-मौसमी एवं सर्दी की ऋतु के कारण मूंगफली में नमी का प्रमाण थोड़ा ज्यादा है। ऐसे में सरकार को निबटारा करना चाहिए। उधर, सरकारी विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सरकार की ओर से तय किए गए नितीनियमों के अनुसार मूंगफली नहीं होने के कारण अस्वीकार की गई है। इस मामले में किसी प्रकार का रागद्वेष या राजनीति नहीं। जो मूंगफली नमी वाली थी और सरकार के नियमानुसार खरीदने योग्य नहीं थी, उसे ही अस्वीकार किया गया है। दूसरी ओर, जामजोधपुर में भी सरकारी नियमों के विरुद्ध किसानों में रोष देखने को मिला।

५८ हजार किसानों ने कराया पंजीकरण :

जामनगर जिले में कुल ६ एपीएमसी सेंटरों पर १५ केन्द्रों पर सरकार की ओर से समर्थन मूल्य पर मूंगफली की खरीदी शुरू की गई है। यूं तो सभी जगह सोमवार को ही समर्थन मूल्य पर खरीदी शुरू हो गई थी, लेकिन जिले के कुछ केन्द्रों पर किसी कारणवश सोमवार की बजाय मंगलवार को समर्थन मूल्य पर खरीदी शुरू की गई। अभी तक में जिले के ५८ हजार से अधिक किसानों ने समर्थन मूल्य पर मूंगफली बेचने के लिए पंजीकरण कराया है।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned