हार्दिक की सभा में फिर हंगामा, हार्दिक बोले विरोध की छूट

निकोल में सभा के दौरान अल्पेश के पोस्टर के साथ कुछ लोगों ने किया हंगामा, हार्दिक समर्थकों के साथ भिडंत, हाथापाई

 

By: nagendra singh rathore

Updated: 20 Apr 2019, 10:50 PM IST

अहमदाबाद. शहर के निकोल इलाके में शनिवार शाम को मंगल पांडे हॉल के पास आयोजित हार्दिक पटेल की चुनावी जनसभा के दौरान एक बार फिर से हंगामा हो गया। कुछ लोग पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के संयोजक अल्पेश कथीरिया के पोस्टर लेकर हार्दिक पटेल की जनसभा में नारेबाजी करने लगे। इसके बाद आरोप है कि हार्दिक पटेल के समर्थक और पोस्टर लेकर नारेबाजी करने वालों के बीच कहासुनी और हाथापाई हुई। जिसके चलते कुछ लोगों के कपड़े भी फाड़ दिए गए।
मौके पर मौजूद पुलिस कर्मचारियों ने मामले को शांत किया।
इस मामले में हार्दिक पटेल ने कहा कि उनका विरोध करने वालों को विरोध करने का पूरा हक है। लेकिन विरोध करने का नाटक किया जा रहा है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि भाजपा अपने कार्यकर्ताओं को अल्पेश कथीरिया का पोस्टर थमाकर विरोध करके लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है।
हार्दिक पटेल शनिवार शाम को निकोल में अहमदाबाद पूर्व सीट से कांग्रेस प्रत्याशी गीता पटेल के समर्थन में जनसभा करने पहुंचे थे। वह मंच पर पहुंचे और संबोधन शुरू किया ही था कि अचानक नारेबाजी शुरू हो गई और देखते ही देखते हंगामा शुरू हो गया।
जोन पांच के पुलिस उपायुक्त अक्षयराज मकवाणा ने संवाददाताओं को बताया कि हार्दिक पटेल की सभा में पंाच लोगों ने हाथों में अल्पेश कथीरिया के गब्बर इज बैक लिखे पोस्टर को लेकर हंगामा किया। जिसके चलते वहां मौजूद कुछ अन्य लोगों ने उनकी पिटाई शुरू कर दी। पुलिस ने उन पांचों ही लोगों को छुड़ा लिया। फिलहाल सभी को थाने ले जाया गया है।
इलाके में फ्लैगमार्च शुरू किया गया है। परिस्थिति अंडर कंट्रोल है। फिर भी सावधानी के लिए इलाके में गश्त बढ़ाया गया है। इस मामले में जांच की जा रही है। जिसके बाद दोनों ही पक्ष यदि शिकायत देंगे तो उस हिसाब से शिकायत दर्ज की जाएगी।
ज्ञात हो कि शुक्रवार को ही सुरेन्द्रनगर जिले की वढवाण तहसील के बलदाणा गांव में सभा के दौरान मंच पर हार्दिक पटेल को तरुण गज्जर नाम के आरोपी ने तमाचा मार दिया था। उसके बाद शनिवार को भी हार्दिक पटेल की सभा में हंगामे की घटना हुई।

हार्दिक ने कल ही सीपी को पत्र लिखकर जताई थी आशंका!
हार्दिक पटेल का कहना है कि उनकी ओर से शुक्रवार को ही अहमदाबाद शहर पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर उनकी निकोल में आयोजित होने वाली जनसभा में उन पर हमला होने एवं हंगामा होने की आशंका जताई थी। इस बाबत उचित सुरक्षा बंदोबस्त करने की मांग की थी। हार्दिक की आशंका सच साबित हुई। पुलिस की उपस्थिति में ही एक बार फिर हार्दिक की सभा में हंगामा मचा।

Hardik Patel
Congress
nagendra singh rathore
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned