मच्छरों की ब्रीडिंग की आशंका पर  718 इकाइयों पर छापे

मच्छरों की ब्रीडिंग की आशंका पर  718  इकाइयों पर छापे

Omprakash Sharma | Publish: Sep, 06 2018 11:16:14 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

१११ को नोटिस
-तीन सील की, सवा चार लाख जुर्माना

अहमदाबाद. मनपा के हेल्थ-मलेरिया विभाग की ओर से की गई कार्रवाई में गुरुवार को १११ इकाइयों को मच्छरों की ब्रीडिंग की आशंका पर नोटिस दिए गए तो तीन को सील भी किया गया। शहर के विविध भागों में ७१८ इकाइयों में जांच की गई।

शहर के पश्चिम जोन में कुल २६० इकाइयों की जांच की गई, इनमें से ग्यारह में अनियमितता पाई जाने पर २५००० रुपए जुर्माना वसूला गया। उत्तरजोन में १४० इकाइयों की जांच की गई उनमें से ३२ में अनियमितता मिली। इनसे २१५०० रुपए का जुर्माना वसूला जाएगा। दक्षिण जोन में ९४ इकाइयों की जांच करने पर पांच में अनियमितता पाई जाने पर २७५०० रुपए, नवा पश्चिम जोन में ९३ इकाइयों की जांच में २० इकायों में अनियमितता पाए जाने पर नोटिस दिए गए। इसी तरह से मध्यजोन में अस्सी इकाइयों में से १० में अनियमितता मिलने पर ५५००० रुपए जुर्माना वसूला गया। इस तरह से कुल ७१८ इकाइयों की जांच करने पर १११ नोटिस जारी किए गए। इनके पास से ४२२८०० रुपए का जुर्माना वसूला गया। जबकि तीन इकाइयों को सील भी किया गया है। इनमें चांदखेड़ा स्थित नारायण आर्केट, ओमकार कंस्ट्रक्शन साइट तथा जिवराज चार रास्ता के निकट स्वामीनारायण मंदिर कंस्ट्रक्शन साइट शामिल हैं।
स्वास्थ्य संबंधित नियमों के उल्लंघन पर...
होटल, रेस्टोरेंट समेत २१ इकाइयां सील
अहमदाबाद. महानगरपालिका के स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को होटल, रेस्टोरेंट एवं बेकरी समेत २१ इकाइयां सील कर दी। इन सभी इकाइयों में स्वच्छता का अभाव और हेल्थ नियमों का उल्लंघन पाया गया।
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शहरवासियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर गुरुवार को अलग-अलग क्षेत्रों में होटल, रेस्टोरेंट व अन्य खान-पान की दुकानों पर छापे मारे गए। जिसमें सबसे अधिक दक्षिण जोन में नौ इकाइयों में अनियमितता पाई गई। जिसके आरोप में सभी नौ को सील कर दिया गया। इसके अलावा उत्तरजोन में तीन, उत्तर-पश्चिम जोन में दो, दक्षिण-पश्चिम जोन में दो, पश्चिम जोन में दो, पूर्व जोन में दो तथा मध्यजोन में एक इकाई को सील किया गया। सील की गई इकाइयों में भाजी पाव की दुकान, फास्टफूड की दुकान, बेकरी, होटल, रेस्टोरेंट, चवाणा की दुकान भी शामिल हैं।
इस वर्ष गत ३१ अगस्त तक शहर में आशंका के आधार पर १९९० नमूने लेकर जांच को भेजे थे। इनमें से ७४ नमूने मिसब्रांडेड, पचास सबस्टैंडर्ड तथा एक अनसेफ समेत सवासौ में अनियमितता पाई गई। जबकि १९१ नमूनों की रिपोर्ट बाकी है। रिपोर्ट में दोषी पाए गए व्यापारियों के खिलाफ नियमों के मुताबिक कार्रवाई की जा रही है।

Ad Block is Banned