हादसे रोकने वाले छह कर्मचारियों की हौसला आफजाई

राजकोट के डीआरएम ने किया सम्मानित

By: Pushpendra Rajput

Updated: 09 Jun 2021, 11:13 PM IST

राजकोट. रेलवे हादसों को टालने में अहम भूमिका निभाने वाले छह रेलकर्मियों की हौसला आफजाई की गई। राजकोट मंडल के इन कर्मचारियों को मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) परमेश्वर फुंकवाल ने मेडल तथा प्रमाणपत्र से सम्मानित किया।

राजकोट मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अभिनव जेफ ने बताया कि इस वर्ष जनवरी से लेकर अप्रैल तक रेल संरक्षा में बेहतरीन कार्य के लिए इन कर्मचारियों को यह अवार्ड दिया गया है। पुरस्कार प्राप्त करने वाले कर्मचारियों में जयेश वी हैं, जो चमारज में प्वाइन्ट्स हैं। उन्होंने 08 जनवरी को सुबह अपनी ड्यूटी के दौरान चमारज स्टेशन से जा रही मालगाड़ी के एक वेगन मे पार्ट लटक हुआ देखा था जो कि एक दुर्घटना का कारण बन सकता था। उन्होंने इसकी सूचना संबन्धित अधिकारी को दी।
कानजीभाई जो खंभालिया में गेंग मेन हैं। उन्होंने 08 फरवरी को सुबह अपनी ड्यूटी के दौरान भाटिया-भोपालका स्टेशन के बीच रेल फ्रेक्चर देखा और तुरंत संबन्धित विभाग को सूचित किया। आर. के. भालोडिया, जो कि -भक्तिनगर स्टेशन पर स्टेशन मास्टर है। उन्होंने 05 मार्च को ड्यूटी के दौरान भक्तिनगर स्टेशन से जा रही एक मालगाड़ी के रनिंग थ्रू परीक्षण के दौरान गाड़ी के एक वेगन में फ्लेट टायर देखा। उन्होंने तुरंत अगले स्टेशन को सूचना देकर मालगाड़ी को रुकवा दिया। सुरेन्द्रनगर के गार्ड आलोक शर्मा ने 24 मार्च को मालगाड़ी में ड्यूटी के दौरान लूणसरिया स्टेशन के बीच मालगाड़ी में स्पार्किंग देख अगले स्टेशन पर मालगाड़ी को खड़ी करवाकर देखा तो एक वेगन में सिलिन्डर साइड का पाइप टूटा हुआ था। वांकानेर के की मेन किरीट माथुर ने 11 अप्रेल को अमरसर-सिंधावदर के बीच पेट्रोलिंग के दौरान रेल फ्रेक्चर देखा और संबन्धित विभाग को सूचित किया। वीरमगाम के गेट कीपर उदु प्रताप ने 18 अप्रेल को गेट से पास से जा रही मालगाड़ी के एक वेगन में हेंगिंग पार्ट को देखा और तुरंत इसकी सूचना देकर ट्रेन को वनीरोड स्टेशन पर रुकवा दिया।

डीआरएम फुंकवाल ने पुरस्कार प्राप्त करने वाले सभी रेल कर्मियों को बधाई देते हुए उन्हें संरक्षा से जुड़े सभी नियमों का पूरी तरह पालन करने तथा अपनी सूझबूझ और मुस्तैदी से किसी भी प्रकार का रेल हादसा रोकने के लिए जरूरी मार्गदर्शन भी दिया। इस अवसर पर राजकोट मंडल के अपर मंडल रेल प्रबंधक (एडीआरएम) गोविंद प्रसाद सैनी, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक आर सी मीणा, वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी एन आर मीना तथा वरिष्ठ मंडल इंजीनियर (समन्वय) राजकुमार एस उपस्थित थे।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned