अहमदाबाद. राजस्थानी भाषा और संस्कृति प्रचार मण्डल की ओर से वार्षिक कार्यक्रम यहां आयोजित हुआ। राजस्थानी भाषा में हिन्दू नव वर्ष कैलेण्डर विक्रम संवत 2076 का विमोचन भी अतिथियों ने किया। इस अवसर पर राजस्थान के कैलेण्डर का राजस्थान में भी विमोचन किया गया।
मण्डल के अध्यक्ष डॉ. सुरेन्द्र सिंह पोखरणा ने अतिथियों और सदस्यों का प्रारंभ में स्वागत किया। अतिथियों ने कैलेण्डर विमोचन किया। अतिथियों को मण्डल के सदस्यों ने राजस्थानी भाषा के प्रयोग और प्रोत्साहन के प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। उपाध्यक्ष प्रेमचंद पटवा ने संचालन किया। सचिव चन्द्रशेखर माथुर ने मण्डल की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि यह मण्डल राजस्थानी भाषा के प्रचार-प्रसार और मान्यता के लिए विभिन्न स्तरों पर अनेक प्रयास एवं गतिविधियां कर रहा है, राजस्थानी भाषाई कैलेण्डर और सामयिक मिलन कार्यक्रम भी भाषा के प्रचार का हिस्सा है।
मण्डल के अन्य पदाधिकारियों अखिलेश मोदी, राजेन्द्र लोढ़ा, मुकेश शर्मा, राधेश्याम गुप्ता, गिरीश मेहता ने व्यवस्था संभाली। कार्यक्रम में सूरजमल सांड ने शारीरिक व्याधियों पर नियंत्रण और बचाव पर व्याख्यान और डेमो दिया। राजेन्द्र लोढ़ा ने मेहन्दी के प्रकार और उपयोगिता पर जानकारी दी।
बच्चों और बड़ों में राजस्थानी भाषा के प्रयोग पर प्रतियोगिताएं, शादियों और त्यौहारों पर रीति रिवाजों का महत्व आदि की जानकारियां भी दी गई। पल्लवी माथुर ने स्वरचित राजस्थानी कविता पठन किया। कौशल मेहता व प्रेमचंद पटवा ने राजस्थानी गीत सुनाए। मेहन्दी रचाओ प्रतियोगिता में मिशा माथुर को प्रथम मनीषा मेहता को द्वितीय, शैलेन्द्र मेहता को तृतीय पुरस्कार दिया गया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned