सडक़ों की मरम्मत, रिसरफेसिंग संबंधी रिपोर्ट पेश करे मनपा

गुजरात उच्च न्यायालय ने शहर की खस्ताहाल सडक़ों के मुद्दे पर अहमदाबाद महानगरपालिका से अब तक की गई सडक़ों की मरम्मत तथा रिसरफेसिंग को लेकर रिपोर्ट पेश करे

By: मुकेश शर्मा

Published: 12 Nov 2017, 09:14 PM IST

अहमदाबाद।गुजरात उच्च न्यायालय ने शहर की खस्ताहाल सडक़ों के मुद्दे पर अहमदाबाद महानगरपालिका से अब तक की गई सडक़ों की मरम्मत तथा रिसरफेसिंग को लेकर रिपोर्ट पेश करे।न्यायाधीश एम. आर. शाह की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने कहा कि सडक़ संबंधी समस्याओं को लेकर लोगों की शिकायत सुनी जाने और इसका समाधान किए जाने को लेकर एक सेल गठित करने को भी कहा। मनपा के इंजीनियर के काम की रिपोर्ट पेश की जाए। साथ ही सडक़ों की मरम्मत को लेकर मनपा की भविष्य की योजना बताई जाए।

मनपा की ओर से पेश किए जवाब में कहा गया कि सबसे ज्यादा खराब 90 रास्तों में से 40 रास्तों की एफएसएल रिपोर्ट आ गई है। इस महीने के अंत में सभी खराब रास्तों की रिपोर्ट एफएसएल से आ जाएगी।

मनपा उपायुक्त एम. एन. गढ़वी की ओर से पेश हलफनामे में यह बताया गया कि खराब सडक़ों की रिसरफेसिंग का काम गत 9 से 15 अक्टूबर तथा गत 16 से 31 अक्टूबर तक किया गया। दीपावली के साथ-साथ मजदूर नहीं मिलने के कारण कुछ इलाकों में यह काम नहीं हो सका।

सडक़ों से जुड़ी शिकायत के लिए सेल गठित करने के निर्देश

मनपा की ओर से यह भी कहा गया कि शहर की सडक़ संबंधी शिकायत सुनने के लिए शिकायत निवारण प्रणाली के गठन किया जाएगा। इसके तहत जोनल स्तर पर शिकायत निवारण अधिकारियों या नोडल अधिकारियों को तैनात किया जाएगा। इस सेल की अगुआई जिम्मेवार वरिष्ठ अधिकारी करेंगे। यह सेल सडक़ों से जु़ड़़ी समस्या और इसे लेकर उठाए जाने वाले कदम की जानकारी देगा।

खंडपीठ ने मनपा को निर्देश दिया कि खराब सडक़ों की मरम्मत व रिसरफेङ्क्षसग को लेकर गुणवत्ता पर समझौता नहीं किया जाना चाहिए। मरम्मत व रिसरफेङ्क्षसग के बाद इस सडक़ को सहायक इंजीनियर या सहायक सिटी इंजीनियर निरीक्षण करेगा। मामले की अगली सुनवाई 29 नवम्बर को रखी गई है।

कुछ महीने पहले भारी बारिश के कारण अहमदाबाद में क्षतिग्रस्त हो गई सडक़ों के बारे में जांच की गुहार पर मुश्ताक हुसैन मेंहदी हुसैन कादरी की ओर से दायर जनहित याचिका दायर की गई।

भारी बारिश के कारण अहमदाबाद मनपा सीमा के तहत पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई सडक़ों के बारे में जांच की गुहार लगाई गई है। खराब गुणवत्ता वाली सडक़ों के लिए जिम्मेवार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned