scriptResident doctors strike over NEET counseling delay issue, Gujarat | नीट काउंसलिंग विलंब मुद्दे पर रेजिडेंट चिकित्सकों की हड़ताल | Patrika News

नीट काउंसलिंग विलंब मुद्दे पर रेजिडेंट चिकित्सकों की हड़ताल

मरीजों को हुई परेशानी

अहमदाबाद

Published: December 08, 2021 10:12:15 pm

अहमदाबाद. एक तरफ कोरोना की तीसरी लहर और महामारी के ओमिक्रॉन जैसे वैरिएंट की दहशत है वहीं दूसरी ओर राज्य के प्रमुख मेडिकल कॉलेजों में रेसिडेंट चिकित्सक नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेन्स टेस्ट (नीट) काउंसलिंग में विलंब को लेकर हड़ताल पर हैं। लगातार दूसरे दिन भी राज्य के अहमदाबाद स्थित बी.जे. मेडिकल कॉलेज, एनएचएल मेडिकल कॉलेज व राजकोट, वडोदरा एवं सूरत के प्रमुख कॉलेजों में रेसिडेंट चिकित्सक नारेबाजी के साथ कामकाज से दूर रहे।
नीट काउंसलिंग विलंब मुद्दे पर रेजिडेंट चिकित्सकों की हड़ताल
नीट काउंसलिंग विलंब मुद्दे पर रेजिडेंट चिकित्सकों की हड़ताल
हड़ताल के कारण मरीजों और उनके परिजनों को विविध समस्याओं का सामना करना पड़ा। बैनर और पोस्टरों के साथ विरोध प्रदर्शन करने वाले चिकित्सकों की मांग है कि जल्दी से जल्दी नए चिकित्सकों की भर्ती की जाए। गौरतलब है कि नीट पीजी का परिणाम आने के बावजूद अभी तक काउंसलिन नहीं की गई है। जिसे लेकर चिकित्सक हड़ताल पर उतरे हैं। इन चिकित्सकों का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच नए चिकित्सकों की भर्ती जरूरी है, ताकि समय रहते महामारी से पीडि़त लोगों का उपचार किया जा सके।
अहमदाबाद शहर के बी.जे. मेडिकल कॉलेज और एनएचएल मेडिकल कॉलेज में बुधवार को प्रदर्शन किया गया। इसी तरह से राजकोट, वडोदरा एवं सूरत के मेडिकल कॉलेजों में भी प्रदर्शन किया गया। इन चिकित्सकों का कहना है कि संभावित महामारी के दौरान चिकित्सकों की संख्या पर्याप्त होने चाहिए ताकि मरीजों की उचित देखरेख की जा सके। चिकित्सकों के मुताबिक हाल में चिकित्सकों की संख्या पर्याप्त नहीं है। नए चिकित्सकों की भर्ती से स्थिति को संभाला जा सकता है। नीट पीजी का परिणाम आने के बावजूद अभी तक काउंसलिन नहीं की गई है। जिसे लेकर चिकित्सक हड़ताल पर उतरे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.