scriptResolve to fight for the problems of fishermen | मछुआरों की समस्याओं को लेकर संघर्ष का लिया संकल्प | Patrika News

मछुआरों की समस्याओं को लेकर संघर्ष का लिया संकल्प

पोरबंदर में मछुआरों की रैली व धरने पर पहुंचे कांग्रेस नेता अर्जुन मोढ़वाडिया

अहमदाबाद

Published: April 02, 2022 10:24:13 pm

राजकोट. पोरबंदर में मछुआरों की समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर शनिवार को रैली व धरने का आयोजन किया गया। गुजरात प्रदेश कांग्रेस समिति (जीपीसीसी) के पूर्व अध्यक्ष व कांग्रेस के नेता अर्जुन मोढवाडिया ने मछुआरों की समस्याओं के निराकरण के लिए एकजुट होकर भाजपा सरकार के विरुद्ध संघर्ष का संकल्प किया।
मछुआरा समाज के अग्रणी ईकु शियाल की मौजूदगी में मोढवाडिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि मछुआरों को 118 रुपए लीटर डीजल मिल रहा है, मछुआरों को दिया जाने वाला डीजल का कोटा वर्षों से बंद है और जीएफसीए व मंडली के डीजल पंप से वेट मुक्त डीजल की बिक्री बंद कर दी गई है।
मछुआरों की समस्याओं को लेकर संघर्ष का लिया संकल्प
मछुआरों की समस्याओं को लेकर संघर्ष का लिया संकल्प
550 भारतीय मछुआरे पाकिस्तानी जेलों में बंद, 1167 बोट कब्जे में

उन्होंने आरोप लगाया कि वर्तमान में 550 भारतीय मछुआरे पाकिस्तानी जेलों में बंद हैं और 1167 बोट पाकिस्तान के कब्जे में हैं लेकिन इन्हें छुड़वाने के लिए भारत सरकार की ओर से प्रयत्न नहीं किए जा रहे। बोट जब्त कर ले जाने के बावजूद बोट मालिक को मिलने वाला सहायता पैकेज वर्तमान सरकार की ओर से बंद किया गया है।
27 वर्ष में नए बंदरगाह का निर्माण नहीं

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि 27 वर्ष से भाजपा सरकार की ओर से एक भी नया बंदरगाह का निर्माण नहीं किया गया। पोरबंदर के फिशरीज टर्मिनल-2 का निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ। बंदरगाहों पर लाइट नहीं है, कचरे के ढेर लगे हैं, मछुआरों को उत्पादों के पर्याप्त भाव नहीं मिलते, आवासीय व बच्चों को छात्रवृत्ति की योजना बंद कर दी गई है।
जेतपुर में औद्योगिक कचरे को समुद्र में डालकर समुद्री जीवों के साथ ही मछुआरों के व्यवसाय को नष्ट करने का षडयंत्र रचा जा रहा है, छोटी नाव खरीदने पर दिया जाने वाला अनुदान 5 वर्ष से बंद किया गया है, छोटी फाइबर बोट केरोसिन के बदले पेट्रोल का उपयोग करने वाले मछुआरों को अनुदान नहीं दिया जा रहा। पोरबंदर बंदरगाह पर बोट पार्किंग की समस्या के निराकरण के लिए सरकार की ओर से प्रयत्न नहीं किया जा रहा। वर्षों से जेटी की मरम्मत नहीं होने से मत्स्योद्योग पर खतरा मंडरा रहा है। मोढवाडिया ने मछुआरों की समस्या शीघ्र हल नहीं किए जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

जम्मू कश्मीरः बारामूला में जैश-ए-मोहम्मद के तीन पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीदDelhi News Live Updates: दिल्‍ली में फैक्‍ट्री से 21 बाल मजदूर छुड़ाए गए, आरोपी फैक्ट्री मालिक की 6 फैक्ट्रियां सीलसुप्रीम कोर्ट में पूजा स्थल कानून के खिलाफ दायर की गई याचिका, संवैधानिक वैधता को चुनौतीTexas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरपंजाब CM Bhagwant Mann का एक और बड़ा फैसला, सरकारी नौकरियों के लिए पंजाबी भाषा है जरूरीकपिल सिब्बल समाजवादी पार्टी के टिकट से जाएंगे राज्यसभा, बताई कांग्रेस छोड़ने की वजहशिवसेना नेता यशवंत जाधव की बढ़ी मुश्किलें, ED ने जारी किया समन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.