समाज के मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान

अखिल विश्वकर्मा युवा संघ गुजरात की ओर से रविवार सवेरे श्री विश्वकर्मा बाग, मणिनगर पूर्व क्षेत्र के गोरनो कुवो , गायत्री मंदिर के समीप जशोदानगर रोड पर

By: मुकेश शर्मा

Published: 11 Sep 2017, 08:20 PM IST

अहमदाबाद।अखिल विश्वकर्मा युवा संघ गुजरात की ओर से रविवार सवेरे श्री विश्वकर्मा बाग, मणिनगर पूर्व क्षेत्र के गोरनो कुवो , गायत्री मंदिर के समीप जशोदानगर रोड पर आयोजित समारोह में समाज के मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान किया गया।

इसके अलावा पुलिस विभाग में नौकरी कर चुके समाज के 60 वर्ष से उपर के अधिकारियों और कर्मचारियों का अभिवादन किया गया। मुख्य अतिथि आईआरएस दिनेश कुमार जांगिड़, चुनाराम जांगिड़, हरेश मेवाडा, पुलिस उप अधीक्षक व सी.टी. सुथार, पूर्व पुलिस उपायुक्त धर्मिष्ठाबेन, राष्ट्रपति अवार्ड से सम्मानित भरतभाई पंचाल,समाज भवन कमेटी हॉलके अध्यक्ष हसमुख भाई, उद्योगपति भीखाभाई सुथार,भाजपा के कारीगर प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय पदाधिकारी कालूराम लोहार व अन्य लोगों को शॉल व मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। युवा संघ के अध्यक्ष व आयोजक हर्षद गज्जर, उपाध्यक्ष हरेश गज्जर, सचिव दिनेश सुथार, अश्विन चौहान ने आभार व्यक्त किया।

इरमा समुद्री चक्रवात में नडियाद के 21 लोग फंसे

दक्षिण अमेरिका के कैरेबियन सेंट माउंट टापु पर इरमा नामक समुद्री चक्रवात में खेडा जिले के नडियाद शहर के मूल निवासी 21 लोग फंसे हुए हैं। इसे लेकर उनके संगे संबधियों में चिंता की लहर फैल गई है। उन्होंने चक्रवात में फंसे लोगों को निकालने के लिए विदेश मंत्री शुषमा स्वराज से गुहार लगाई है।

शहर के न्यू जवाहर नगर में रहने वाली ज्योतिबेन जगवाणी के तीन भाई , तीन बहन व एक भतीजा सहित कुल सात जने 25 वर्ष पूर्व से वहां स्थायी रूप से रह कर व्यवसाय करते हैं। टापु पर आए समुद्री चक्रवात से वहां के 95 फीसदी मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। उनका आरोप है कि वहां के स्थानीय लोग इसका फायदा उठाते हुए लूटपाट कर रहे हैं। ज्योतिबेन गत चार दिनों से सभी 21 लोगों से संपर्क करने का प्रयास कर रही हैं । लेकिन उनको इसमें सफलता नहीं मिली है।

उन्होंने नडियाद के विधायक व विधानसभा में मुख्य सचेतक पंकज देसाई से मिलकर मदद के लिए अनुरोध किया है। देसाई ने इसके लिए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से मिलकर विदेश मंत्री शुषमा स्वराज से भी मदद की गुहार लगाई है। ज्योतिबेन का कहना है कि अंतिम बार उनका अपने परिजनों से सम्पर्क गत छह सितंबर को हुआ था। इसके बाद से उनका कोई अता-पता नहीं है।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned