ऐसे धरा गया.. मोबाइल चोरी का आरोपी गिरफ्तार

ऐसे धरा गया.. मोबाइल चोरी का आरोपी गिरफ्तार

Pushpendra R.Singh Rajput | Publish: Sep, 02 2018 10:10:52 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की अपराध रोकथाम टीम

अहमदाबाद. रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की अपराध रोकथाम टीम ने अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर चार से मोबाइल चोरी के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
आरपीएफ की अपराध रोकथाम टीम के हेड कांस्टेबल राजेश देसाई, मदन ताखर, कांतिभाई और कांस्टेबल अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर चार पर गश्त लगा रहे थे। इसी बीच ट्रेन संख्या 17203 भावनगर टर्मिनस-कांकीनाडा पोर्ट एक्सप्रेस के जनरल कोच से उतरे एक संदिग्ध व्यक्ति को रोककर उससे पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उस व्यक्ति ने अपना नाम मस्तानसा खानीशा (32) बताया, जो चंडोला तालाब के नवाबनगर निवासी बताया। जब ट्रेन से सफर के बारे में पूछा गया तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। बाद में उसे आरपीएफ अहमदाबाद थाने लाया गया। आरपीएफ टीम को उस व्यक्ति की तलाशी में एक महंगा मोबाइल फोन मिला, जो उस ट्रेन के जनरल कोच में किसी यात्री का चुराकर लाया था। कार्रवाई के बाद आरपीएफ ने आरोपी को राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) को सौंप दिया।
ट्रेन से मोबाइल चोरी का आरोपी गिरफ्तार
रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने चलती ट्रेन में रेलयात्री का मोबाइल पार करने के आरोपी गिरफ्तार किया है। ट्रेन संख्या 19264 दिल्ली सरायरोहिल्ला-पोरबंदर एक्सप्रेस में आरपीएफ के सहायक उप निरीक्षक पूनाभाई संगाड़ा अपनी टीम के साथ विरमगाम से राजकोट के बीच ट्रेन एस्कोर्टिंग ड्यूटी कर रहे थे। शुक्रवार दौरान सुबह करीबन 8 बजे वांकानेर से राजकोट के बीच कांस्टेबल अरुण सोनारा व हरेश साखट को कोच नं- बी-1 की बर्थ नं-36 के यात्री जब्बार न्यूतार जो कि अजमेर से राजकोट तक सफर कर रहे थे। उन्होंने अपने दो मोबाइल सीट के पास स्टैंड पर रखे थे। इसी बीच चकमा देकर किसी ने उनके मोबाइल पार कर दिए। इसके चलते आरपीएफ के पार्टी इंचार्ज ने अपने स्टाफ के साथ कोच व बाथरूमों को चेक किया। बाद मे बी-1 चेक करते समय एक संदिग्ध यात्री से पूछताछ में पता चला कि उसका नाम आरिफ़ करीमभाई जाम, (20) , जो परिवार के साथ अजमेर से राजकोट तक अपने भाई की टिकट पर कोच नं- बी/1 की सीट नं-24 पर यात्रा कर रहा था। उसका जवाब संतोषकारक नहीं होने पर उसकी तलाशी ली गई। तलाशी में उसके बैग दो मोबाईल मिले। बाद में संदिग्ध यात्री ने मोबाइल चुराने की बात कबूल की। बाद में दोनों मोबाइल फरियादी यात्री जब्बार को दिखाए गए तो उन्होंने दोनों मोबाइल खुद के बताए। आरपीएफ इंचार्ज ने आरोपी यात्री को आवश्यक कार्यवाही हेतु जीआरपी-राजकोट को सौंप दिया। राजकोट के मंडल रेल प्रबंधक पी बी निनावे तथा मंडल सुरक्षा आयुक्त मिथुन सोनी ने आरपीएफ स्टाफ की कार्रवाई की सराहना की।

Ad Block is Banned