Ahmedabad News : जामनगर में नल से जल के लिए 153 करोड़ रुपए मंजूर

in jamnagar facility of water from tap, राज्य सरकार की ओर से 78 करोड़ रुपए का अनुदान जारी

जामनगर. शहर में नल से जल के लिए 153 करोड़ रुपए की योजना को मंजूरी देनेके साथ ही राज्य सरकार की ओर से 78 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया है।
सूत्रों के अनुसार शहर में नल से जल के लिए 153 करोड़ रुपए के कार्यों में से 117 करोड़ रुपए के कार्यों के लिए निविदा जारी कर दी गई है। शहर में पुरानी पाइप लाइनें बदली जाएगी और नए विकसित क्षेत्रों में 95 करोड़ रुपए के खर्च से पाइप लाइन बिछाई जाएगी।
जामनगर महानगर पालिका के आयुक्त सतीष पटेल, शहर अभियंता शैलेष जोशी, उप अभियंता पी.सी. बोखाणी की ओर से शहर का सीमा क्षेत्र बढऩे के चलते पाइप लाइन से पानी के वितरण के लिए अनेक परियोजनाएं राज्य सरकार की मंजूरी के लिए भेजी गई। इसके तहत वर्ष 2020 में जामनगर शहर में नल से जल योजना पूरी करने के लिए 153 करोड़ रुपए की परियोजना भी मंजूरी के लिए राज्य सरकार को भेजी गई। इस परियोजना को राज्य सरकार की ओर से मंजूरी दे दी गई है।
इसके अलावा पानी के पुराने पम्पिंग स्टेशनों की मशीनों की एनर्जी ऑडिट रिपोर्ट जलापूर्ति शाखा की ओर से तैयार की गई है। पानी के पुराने पम्प के स्थान पर बिजली की बचत के लिए पुराने पम्प बदलने का काम किया गया है। जलापूर्ति के लिए स्कॉडा प्रणाली स्थापित की जाएगी। सभी जलस्त्रोतों से वितरण सेन्टरों तक पानी के स्तर की निगरानी की जाएगी। सभी कनेक्शनों के लिए एमबीपीई सामग्री से बनी टूंटियों (नलों) व फिटिंग्स का उपयोग किया जाएगा।
शहर में रणजीत सागर से पंप हाऊस तक 18 करोड़ रुपए की लागत से पाइप लाइन बिछाई जाएगी। कुल 128 किलोमीटर की सीमा में नगर सीमा क्षेत्र, लालवाड़ी, महाप्रभुजी की बैठक क्षेत्र सहित अन्य स्थलों पर भी पाइप लाइन बिछाई जाएगी।

एक वर्ष में टैंकरों से जलापूर्ति होगी बंद

फिलहाल शहर के लालवाड़ी, बेडी, जोडिय़ा-भुंगा, महाप्रभुजी की बैठक क्षेत्र, मोरकंडा आदि अनेक क्षेत्रों में टैंकरों से जलापूर्ति की आवश्यकता है, इस प्रथा को बंद करने के लिए प्रयास शुरू किए गए हैं। शहर में एक वर्ष में टैंकरों से जलापूर्ति बंद कर दी जाएगी।

दो किश्तों में मिले 78 करोड़ रुपए

जानकारी के अनुसार प्रदेश के अन्न व नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री धर्मेन्द्रसिंह जाड़ेजा व उनकी टीम की ओर से राज्य सरकार के समक्ष अनेक बार मांग करने के बाद 153 करोड़ रुपए की नल से जल योजना की परियोजना को मंजूरी दी गई है। इसमें से 18 करोड़ व 60 करोड़ रुपए की दो किश्तों में कुल 78 करोड़ रुपए का अनुदान राज्य सरकार की ओर से दिया गया है।

Rajesh Bhatnagar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned