50 करोड़ रुपए का घोटाला, आरोपियों की 12.34 करोड़ की संपत्ति जब्त

10,280 पेज का आरोप पत्र तैयार

समय ट्रेडिंग एवं आशीष क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी में निवेश

By: Rajesh Bhatnagar

Updated: 27 Jun 2021, 12:04 AM IST

राजकोट. शहर के चर्चित समय ट्रेडिंग एवं आशीष क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के 50 करोड़ रुपए से अधिक के घोटाले के आरोपियों की 12.34 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई है। शहर के यूनिवर्सिटी थाने की टीम की ओर से 10,280 पेज का आरोप पत्र तैयार किया गया है।
इस मामले में मुख्य सूत्रधार मंडली के पदाधिकारियों और एजेंटों सहित कुल 11 लोगों को आरोपी बनाया गया है। आरोपियों की 12 करोड़ 34 लाख 38 हजार 125 रुपए की संपत्ति जब्त की गई है। यूनिवर्सिटी थाने के निरीक्षक ए.एस. चावड़ा व उप निरीक्षक ए.बी. जाडेजा एवं थाने की टीम ने घोटाले के 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया था।
इनमें राजकोट के प्रदीप डावेरा, दिव्येश कालावडिया, हितेश लुक्का, कार्तिक उर्फ गोपी झाला, पार्थ झाला, पारितोष झाला, ललित झाला, कमलकुमार उर्फ कमलेश सापोवाडिया, मूल गोंडल के अशोक कालरिया, मूल जामनगर जिले के चंद्रकांत पटेल, किरीटसिंह जाडेजा शामिल हैं।
प्रदीप डावेरा ने पहले वलसाड में कारोबार शुरू किया, बाद में वर्ष 2017 में राजकोट आकर निवेशकों से संपर्ककर शेयर बाजार में प्रति महीने 1 लाख रुपए के निवेश पर 10 हजार रुपए ब्याज का लालच देना शुरू किया। प्रदीप दिव्येश व हितेश ने रैया चौकड़ी के समीप साझेदारी में समय ट्रेडिंग नामक पेढ़ी शुरू की।

584 लोगों ने 48 करोड़ 26 लाख 15 हजार रुपए का किया था निवेश

उसके बाद वर्ष 2019 में महेसाणा की पार्टी से खरीदकर राजकोट में शीतल पार्क क्षेत्र में आशीष क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी शुरू की। उसमें शुरुआत में 110 सदस्य थे, बाद में बढक़र 350 सदस्य हुए। दोनों पेढिय़ों में कुल 584 निवेशकों ने 48 करोड़ 26 लाख 15 हजार रुपए का निवेश किया।

Rajesh Bhatnagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned