RTO: अवकाश के बावजूद खुला रहा आरटीओ

150 स्कूल वाहनों की हुई फिटनेस जांच

By: Pushpendra Rajput

Published: 07 Jul 2019, 09:33 PM IST

अहमदाबाद. अवकाश होने के बावजूद रविवार को क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ-अहमदाबाद) खुला रहा। रविवार को आरटीओ कार्यालय परिसर में अधिकारियों ने डेढ़ सौ से ज्यादा स्कूलवर्धी वाले वाहनों की फिटनेस जांच के लिए विशेष कैम्प हुआ, जिसमें वैन और स्कूल वर्धी वाहनों में गैस कीट, सीटों की क्षमता, पीसीयू की जांच की गई। आरटीओ ने जो स्कूल वैनों के नियम लागू किए हैं उनमें छेड़छाड़ पाए जाने पर उनको नियमानुसार बदलाव करने की हिदायत दी। साथ ही ऐसे वाहन चालक जो निजी वाहनों को स्कूलवर्धी में दौड़ाते हैं उन वाहनों को कमर्शियल वाहनों में बदलाव करने की प्रक्रिया की गई। आरटीओ एस.पी. मुनिया और एआरटीओ एस.एस. मोजणीदार की निगरानी में यह कार्रवाई की गई।
एआरटीओ एस.ए. मोजणीदार के मुताबिक 150 से ज्यादा स्कूल वाहन फिटनेस जांच के लिए आए थे। वहीं दस से ज्यादा निजी वाहनों को कमर्शियल में तब्दील करनेवाले आए थे। इस मौके पर सीएनजी गैस के कर्मचारियों ने गैस कीट की जांच की। ऐसा ही कैम्प अगली 13, 14 और 21 जुलाई को भी आरटीओ कैम्पस में शिविर होगा।
दोगुना भुगतान करने वालों को मिलेगा रिफंड
ऐसे वाहन चालक जिन्होंने एक ही आवेदन पर दोगुना शुल्क भुगतान किया है उन वाहन चालकों को शुल्क रिफंड किया जाएगा। क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय -अहमदाबाद के अधिकारी एस.पी. मुनिया के मुताबिक लाइसेंस, वाहनों की फिटनेस के लिए आरटीओ -अहमदाबाद में ऑनलाइन भुगतान किया जाता है। कई बार एक ही कामकाज के लिए दो बार शुल्क भुगतान हो जाता है। ऐसे लोग आवेदन के साथ साक्ष्य पेश कर रिफंड ले सकते हैं। इसके लिए दो जुलाई तक आरटीओ कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned