सरसपुर स्थित पुराने मंदिर के महंत ने बयां किया दर्द

रथयात्रा नहीं निकलने से...

By: Omprakash Sharma

Published: 24 Jun 2020, 09:51 PM IST

अहमदाबाद. शहर के सरसपुर स्थित प्रचीन रणछोडऱाय मंदिर के महंत लक्ष्मणदास महाराज भी रथयात्रा नहीं निकलने से दुखी हैं। महंत ने बुधवार को विरोधस्वरूप अपने अनुयाइयों के साथ जमालपुर स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर तक पैदल मार्च करने का निर्णय किया था लेकिन पुलिस ने समझा कर उन्हें रोक दिया था।
सरसपुर में नानी वासण शेरी में पुरानी मौसाल के रूप में प्रसिद्ध भगवान रणछोड़ राय के मंदिर के महंत एवं महामंडलेश्वर लक्ष्मण दास महाराज ने बताया कि 143वीं रथयात्रा नहीं निकलने से वे आहत हुए हैं। इसके विरोध में बुधवार को जमालपुर स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर तक पैदल जाने का निर्णय लिया था, लेकिन पुलिस ने समझा कर उन्हें रोक दिया था। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से उन्हें भरोसा दिलाया गया है जिससे उनकी समस्या का समाधान भी हुआ है। गौरतलब है कि रथयात्रा नहीं निकलने का दर्द जगन्नाथ मंदिर के महंत दिलीपदास महाराज भी जता चुके हैं।

Omprakash Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned