स्कूलों में लौटेगी रौनक, 26 से खुलेंगे कक्षा 9 से 11 तक क्लास

school, class, CM rupani, students, corona pandemic, CM rupani: आधी क्षमता के साथ प्रारंभ हो सकेंगे वर्गखंड, विद्यार्थियों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं

By: Pushpendra Rajput

Published: 22 Jul 2021, 09:38 PM IST

गांधीनगर. कोरोना की दूसरी लहर के बाद अब 26 जुलाई से कक्षा 9 से 11 तक के क्लास खुल जाएंगे। पचास फीसदी क्षमता के साथ वर्गखंडों शुरू होंगे, जिसमें विद्यार्थियों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं है। स्कूलों में आने वाले छात्रों को अपने अभिभावकों से अनुमति पत्र लाना होगा। हालांकि ऑनलाइन शिक्षा जारी रहेगी। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी की अध्यक्षता में आयोजित कोर कमेटी की बैठक में यह अहम निर्णय किया गया।

कोर कमेटी की बैठक में राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति और लगातार घटते कोविड केसों की संख्या को देखते हुए स्कूलों में कक्षाएं प्रारंभ करने को लेकर समीक्षा की गई और विचार-विमर्श किया गया। बाद में मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने राज्य में आगामी 26 जुलाई से कक्षा 9 से 11 तक के क्लास प्रारंभ करने का निर्णय किया गया। स्कूलों में शैक्षणिक कार्य प्रारंभ होने पर कोरोना संक्रमण को रोकने के दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।
इससे पूर्व राज्य सरकार ने 9 जुलाई से उच्चतर माध्यमिक में कक्षा 12 की कक्षाएं और डिप्लोमा-डिग्री के पाठ्यक्रम पचास फीसदी क्षमता के साथ प्रारंभ कराए हैं। अब कक्षा 9 से 12 तक के क्लास भी प्रत्यक्ष रूप से 26 जुलाई से प्रारंभ होंगे।

कोर कमेटी की बैठक में उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल, शिक्षा मंत्री भूपेन्द्रसिंह चुड़ास्मा, ऊर्जा मंत्री सौरभ पटेल, गृह राज्यमंत्री प्रदीपसिंह जाड़ेजा एवं मुख्य सचिव अनिल मुकीम, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव कैलाशनाथन, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पंकज कुमार, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव एम.के. दास, स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव मनोज अग्रवाल एवं अन्य सचिव उपस्थित थे।

गौरतलब है कि कोरोना की पहली लहर के बाद राज्य सरकार ने स्कूल-कॉलेज प्रारंभ किए थे, लेकिन बाद में कोरोना संक्रमण के मामले बढऩे से स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया गया था। हालात यह हो गए थे कि स्कूलों और कॉलेजों के छात्रों को मास प्रमोशन दिया गया। अब कोरोना की दूसरी लहर के बाद फिर से धीरे-धीरे स्कूल-कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई प्रारंभ हो रही है।

प्राथमिक कक्षाएं भी खुलें

उधर, गुजरात राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ ने भी राज्य में प्राथमिक स्कूलों में ऑफलाइन पढ़ाई प्रारंभ करने की मांग की है। इस मुद्दे को लेकर उन्होंने शिक्षा मंत्री भूपेन्द्रसिंह चुड़ास्मा को पत्र भी दिया है। वहीं शिक्षा संघ ने इस मुद्दे को लेकर गांधीनगर में बैठक भी की थी। शिक्षामंत्री को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि अब कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट आई है। कोरोना की स्थिति सामान्य हो रही है। शेरी (मोहल्ला) शिक्षा में ग्रामीणस्तर पर बच्चों को बिठाने में खासी दिक्कत होती है। ऑनलाइन में भी काफी शिकायतें मिलती हैं। प्रथम चरण में कक्षा 6 से आठ तक के छात्रों को बुलाया जाए। दूसरे चरण में एक से पांच तक के छात्रों को स्कूल बुलाया जाए।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned