scriptSilver Jubilee Festival of Wadali Mahakali Temple | Mahakali Temple : 1008 कलशों के साथ निकाली शोभायात्रा | Patrika News

Mahakali Temple : 1008 कलशों के साथ निकाली शोभायात्रा

वडाली महाकाली मंदिर का रजत जयंती महोत्सव, रामायण और महाभारत के पात्रों की वेशभूषा में शामिल हुए श्रद्धालु

अहमदाबाद

Published: May 23, 2022 07:24:06 pm

हिम्मतनगर. साबरकांठा जिले के वडाली स्थित वडाली महाकाली मंदिर का रजत जयंती महोत्सव का आयोजन किया गया। 1008 बालिकाओं समेत महिलाएं सिर पर कलश लिए शोभायात्रा में शामिल हुईं। रामायण और महाभारत के पात्रों की वेशभूषा में शामिल लोग सभी का ध्यान खींच रहे थे।
फूलों से आकर्षक सजे ट्रैक्टर के साथ यात्रा में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए जो कि विशेष वस्त्रों में सजे-धजे रहे। नगर पालिका में शोभायात्रा का स्वागत किया गया। डीजे की ताल के साथ माताजी की भक्ति में लीन लोगों ने गरबा नृत्य की प्रस्तुति से माहौल भक्तिमय कर दिया। 18 मई से शुरू हुए समारोह का समापन रविवार को हो गया। समग्र आयोजन पांच गाम सगर समाज की ओर से किया गया।
साबरकांठा के सब्जी के खजाना के में प्रसिद्ध वडाली नगर और इसके आसपास के चार गांव मिलाकर पांच गांव सगर समाज की कुलदेवी महाकाली माताजी के मंदिर की स्थापना का 25 वर्ष पूरा होने पर बड़े पैमाने पर सहस्त्रचंडी हवन समेत अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयोजन में लोककलाकारों ने समां बांधा। महाकाली की नगरयात्रा समेत धार्मिक कार्यक्रमों में सैकड़ों लोग शामिल हुए।
Mahakali Temple : 1008 कलशों के साथ निकाली शोभायात्रा
Mahakali Temple : 1008 कलशों के साथ निकाली शोभायात्रा

सगर समाज की आराध्य हैं महाकाली
सगर समाज की आराध्य कुलदेवी महाकाली के प्रति लोगों में असीम आस्था है। समारोह के पहले दिन 18 मई को सांस्कृतिक कार्यक्रम, दूसरे दिन लोक कलाकार काजल महेरिया की मौजूदगी में गरबा महोत्सव हुआ। 20 मई सहस्त्र चंडी महायज्ञ का विधिवत शुरुआत किया गया। शाम को कलाकार जयदीप गढवी के डायरे ने लोगों को भाव-विभोर कर दिया।
खेडब्रह्मा वडाली हाईवे पर महाकाली माता का मंदिर वर्षों से खेडब्रह्मा जाने वाले माताजी के संघों और अंबाजी जाने वाले पैदल यात्रियों के संघों की सेवा करते हैं। इससे पूर्व महा हवन में हरिओम आचार्य की अध्यक्षता में 131 ब्राह्मणों की मौजूदगी में महाकाली को समर्पित दिव्य आहुतियां प्रदान की गईं।
महायज्ञ में 21 कुंडीय समेत अन्य ब्राह्मण रोजाना 5 चंडीपाठ किए। यज्ञ की पूर्णाहुति रविवार को की गई। धार्मिक कार्यक्रमों के अलावा पांच सगर गांव के बालकों का टैलेंट शो भी किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

वायरल फोटो के बाद गहलोत के मंत्रियों के निशाने पर कटारिया, भाजपा से माफी की मांगMaharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करमस्क-बेजोस सहित कई अरबपतियों की दौलत में भारी गिरावट, जुकरबर्ग की संपत्ति हुई आधीबिहार में पैसेंजर ट्रेन के इंजन में लगी आग, रक्सौल से नरकटियागंज जा रही थी रेलगाड़ीराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्जMumbai News Live Updates: स्पीकर चुनाव में शिंदे खेमा जीता, राहुल नार्वेकर ने पार किया बहुमत का जादुई आंकड़ाMaharashtra Politics: सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम फडणवीस को गर्वनर भगत सिंह कोश्यारी ने खिलाई मिठाई, तो चढ़ गया सियासी पारा!Char Dham Yatra 2022: चार धामा यात्रा को लेकर आई बड़ी खबर, केदारनाथ धाम गर्भगृह के दर्शन पर लगा प्रतिबंध हटा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.