'सिंगापुर-दुबई की तर्ज पर गिफ्ट सिटी को करेंगे विकसित'

गुजरात में निवेश करने वाला सिंगापुर दूसरा बड़ा देश

By: Pushpendra Rajput

Published: 05 Apr 2021, 08:34 PM IST

गांधीनगर. सिंगापुर और दुबई की तर्ज पर गिफ्ट सिटी को वल्र्ड क्लास इन्वेस्टमेन्ट डेस्टीनेशन फॉर फाइनांसियल एंड टेक्नोलॉजी कंपनीज की स्थापना के तौर पर विकसित किया जाएगा। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सोमवार को गांधीनगर में सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वोंग के साथ आए प्रतिनिधिमंडल के समक्ष चर्चा में यह बात कही।
यह उच्चस्तरीय प्रतिनिधि मंडल इस माह के अंत में गांधीनगर स्थित गिफ्ट सिटी में सिंगापुर स्टॉक एक्सचेंज कार्यालय प्रारंभ करने के अंतिम चरणों की तैयारियां के लिए गुजरात आया है। सिंगापुर के उच्चायुक्त सिमोन वोंग ने इस एक्सचेंज कार्यालय का प्रारंभ कराने के लिए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को आमंत्रण दिया। मुख्यमंत्री रुपाणी ने उनका आमंत्रण स्वीकार किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री रुपाणी ने कहा कि गुजरात भारत में सबसे ज्यादा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) करनेवाले राज्यों में अव्वल है। गुजरात में एफडीआई करनेवाला सिंगापुर दूसरा सबसे बड़ा देश है।

चर्चा के दौरान उच्चायुक्त सिमोन वांग ने भी स्पष्ट किया कि गिफ्ट सिटी में सिंगापुर स्टॉक एक्सचेंज प्रारंभ होने से सिंगापुर की अन्य सहयोगी कम्पनियों को बल मिलेगा। सिमोन ने सिंगापुर की कम्पनीज और औद्योगिक इकाइयों के निवेश की जानकारी देते कहा कि गुजरात में पिछले वित्तीय वर्ष में सिंगापुर की ओर से एक यूएस बिलियन डॉलर्स का एफडीआई किया गया। सिंगापुर की कई जानी-मानी कम्पनियों में सेम्पकोर्प इंडस्ट्रीज, जो कि रिन्युएबल एनर्जी सेक्टर में ग्लोबल लीडर है, ने प्रोजेक्ट लगाया है। इसके अलावा सिंगापुर की विभिन्न कम्पनियां गुजरात में फूड प्रोसेसिंग, हाउसिंग, फिशरीज एवं फाइनांसियल सर्विसेज सेक्टर भी निवेश करने को इच्छुक है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एम.के. दास, उद्योग आयुक्त राहुल गुप्ता और इंडेक्सट-बी के प्रबंध निदेशक नीलम रानी भी उपस्थित थी।

Pushpendra Rajput Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned