विदेशी मुद्रा की तस्करी का पर्दाफाश, तीन हिरासत में

विदेशी मुद्रा की तस्करी का पर्दाफाश, तीन हिरासत में

Pushpendra RSingh | Publish: Jan, 13 2018 07:15:19 PM (IST) | Updated: Jan, 13 2018 07:17:52 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

डीआरआई ने की कार्रवाई

अहमदाबाद. राजस्व आसूचना निदेशालय (डीआरआई) - अहमदाबाद की टीम ने शनिवार को मुंबई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से 1.75 करोड़ की विदेशी मुद्रा की तस्करी का पर्दाफाश किया। यह विदेशी मुद्रा दुबई भेजी जा रही थी। डीआरआई ने विदेशी मुद्रा तस्करी के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया।
डीआरआई अधिकारियों को जानकारी मिली थी कि मुंबई का सोना तस्करी गिरोह भारत से दुबई के लिए बड़े पैमाने पर विदेशी मुद्रा की तस्करी कर रहा है, जो शनिवार सुबह एमीरेट्स फ्लाइट से विदेशी मुद्रा की तस्करी के लिए कैरियर के तौर पर निजामुद्दीन शेख, शेख मोइन मोहम्मद एवं अनाम शेख यह राशि ले जाने को एकत्रित हुए। इन लोगों अपने चैक इन बैग ऑर्गेनिक हार्वेस्ट क्रीम कैन में और पैन्ट के पाकेट में यह राशि छिपाई थी।
डीआरआई-अहमदाबाद की टीम ने इसकी जानकारी मुंबई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की एयर एन्टेलिजेंस यूनिट को दी थी। जब ये तीन लोग उड़ान में सवार होने पहुंचे थे तभी एन्टेलिजेंस की टीम पहुंच गई और उनकी पूछताछ शुरू की। पहले तो उन लोगों ने विदेशी मुद्रा ले जाने से इनकार कर दिया। बाद में एन्टेलिजेंस के अधिकारियों ने उन लोगों की चैक इन बैग के साथ अलग-अलग तलाशी ली, जिसमें यात्रियों से 2.75 लाख यूएस डॉलर बरामद किए, जिसकी राशि 1.75 करोड़ रुपए है। यह राशि आर्गेनिक हाइवेस्ट क्रीम कैन और पैन्ट में छिपाई गई थी। विदेशी मुद्रा से ये लोग दुबई से सोना खरीदकर लाते थे। प्रत्येक कैरियर को हर फेरे के 20 -20 हजार रुपए देने का वादा किया गया था। सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 प्रावधानों के तहत मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से एन्टेलिजेंस की टीम ने विदेशी मुद्रा जब्त कर ली। पिछले छह माह में डीआरआई-अहमदाबाद की टीम ने विदेशी मुद्रा का नौवां मामला दर्ज किया है।

आरआई ने विदेशी मुद्रा तस्करी के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार में आरोपियों में निजामुद्दीन शेख, शेख मोइन मोहम्मद एवं अनाम शेख शामिल हैं। मुंबई का सोना तस्करी गिरोह भारत से दुबई के लिए बड़े पैमाने पर विदेशी मुद्रा की तस्करी कर रहा था।

Ad Block is Banned