scriptटेट-टाट पास उम्मीदवारों का गांधीनगर में हल्लाबोल | TET-TAT pass candidates create ruckus in Gandhinagar | Patrika News
अहमदाबाद

टेट-टाट पास उम्मीदवारों का गांधीनगर में हल्लाबोल

टेट टाट पास उम्मीदवारों ने ज्ञान सहायक की जगह स्थायी भर्ती करने की मांग है। गांधीनगर में हल्लाबोल किया। विधायक जिग्नेश मेवाणी भी उम्मीदवारों के समर्थन में आगे आए हैं।

अहमदाबादJun 18, 2024 / 10:15 pm

nagendra singh rathore

TET

गांधीनगर में विरोध प्रदर्शन कर रहे टेट, टाट उम्मीदवार।

गुजरात सरकार ने राज्य के स्कूलों में स्थायी शिक्षकों की भर्ती करने की जगह ज्ञान सहायकों की भर्ती करने की घोषणा की है। ऐसे में टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (टेट) और टीचर एप्टीट्यूड टेस्ट (टाट) पास उम्मीदवारों ने मंगलवार को गांधीनगर में पुराने सचिवालय में हल्लाबोल किया। उम्मीदवारों के विरोध को देखते हुए पुराने सचिवालय और सचिवालय की ओर जाने वाले मार्ग , पथिकाश्रम पर पुलिस कर्मचारियों की बड़ी संख्या में तैनाती की गई थी। बैरिकेड लगाए गए थे। इसके बावजूद भी उम्मीदवार अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन करने पहुंचे तो पुलिस ने ढाई सौ से ज्यादा उम्मीदवारों को हिरासत में ले लिया। उम्मीदवार और पुलिस के बीच स्थिति तनावपूर्ण हो गई थी।
कुछ उम्मीदवारों का कहना था कि स्थिति ऐसी है कि उनकी शिक्षक के पद पर भर्ती होने की आयु भी निकल गई है। उनकी मांग है कि भर्ती में आयु सीमा में भी छूट दी जाए। उम्मीदवारों ने कहा कि यदि सरकार ने योग्य निर्णय नहीं किया तो आगामी समय में अहमदाबाद में रैली निकाली जाएगी। उम्मीदवारों ने शिक्षामंत्री के विरुद्ध नारेबाजी भी की। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में युवतियां-महिलाएं भी शामिल थीं। उम्मीदवार रिक्त चल रहे पदों पर स्थायी तौर पर भर्ती करने की मांग कर रहे हैं।
उम्मीदवारों को वडगाम से कांग्रेस विधायक जिग्नेश मेवाणी का भी साथ दिया है। मेवाणी भी इन उम्मीदवारों के समर्थन में गांधीनगर पुराने सचिवालय पहुंचे थे। उम्मीदवारों ने कहा कि पहले प्रदर्शन करने पर सरकार ने जून में भर्ती करने का आश्वासन दिया था। 15 जून की तारीख दी थी। 18 जून हो गई है अब तक सरकार ने कुछ नहीं किया है। मजबूरन हल्लाबोल करना पड़ रहा है। पुलिस में भर्ती होती है। अन्य विभागों में होती है तो शिक्षा विभाग में स्थायी भर्ती क्यों नहीं हो रही है।

70 हजार शिक्षकों के पद हैं रिक्त, 90 हजार उम्मीदवार कर रहे इंतजार: मेवाणी

उम्मीदवारों के समर्थन में आए विधायक जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि गुजरात में आज 70 हजार से ज्यादा पद प्राइमरी से लेकर उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में रिक्त चल रहे हैं। उसके सामने राज्य में 90 हजार उम्मीदवार टेट और टाट पास की है। फिर भी सरकार स्थायी तौर पर भर्ती नहीं कर रही है। सालों तक तैयारी कर टेट-टाट पास करने वाले युवाओं का नौकरी का सपना तोड़ रही है। सरकार इन उम्मीदवारों के साथ बातचीत करने को भी तैयार नहीं है। इन उम्मीदवारों का भविष्य अंधकारमय बन रहा है। वे सरकार और शिक्षा मंत्री से मांग करते हैं कि वे इस संदर्भ में त्वरित निर्णय करें।टेट-टाट पास

उम्मीदवारों की मांग वाजिब, जल्द हो भर्ती: गोहिल

गुजरात प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष शक्ति सिंह गोहिल ने भी टेट-टाट पास उम्मीदवारों की मांग को जायज ठहराते हुए कहा कि सरकार को जल्द से जल्द स्थायी तौर पर भर्ती करनी चाहिए। यह उनके भविष्य का सवाल है। भर्ती नहीं होने से राज्य की शिक्षा की गुणवत्ता भी प्रभावित हो रही है।

Hindi News/ Ahmedabad / टेट-टाट पास उम्मीदवारों का गांधीनगर में हल्लाबोल

ट्रेंडिंग वीडियो