बोट सहित तीन पाक मछुआरे पकड़े

Mukesh Sharma

Publish: Nov, 14 2017 10:20:56 (IST)

Ahmedabad, Gujarat, India
बोट सहित तीन पाक मछुआरे पकड़े

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने शनिवार को हरामीनाला इलाके से तीन बोट सहित तीन मछुआरों को पकड़ा। इससे पहले भी शुक्रवार को बीएसएफ ने छह नावों के साथ पाकिस्त

अहमदाबाद/भुज।सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने शनिवार को हरामीनाला इलाके से तीन बोट सहित तीन मछुआरों को पकड़ा। इससे पहले भी शुक्रवार को बीएसएफ ने छह नावों के साथ पाकिस्तान के पांच मछुआरों को पकड़ा था।

इस तरह बीएसएफ के गश्ती दल ने 24 घंटे के भीतर 9 नावों के साथ 8 मछुआरों को पकड़ा। शनिवार को पकड़े गए पाक मछुआरों में फैजल मोहम्मद मुसा (27), अली असगर लाल खान (23) व फैज मोहम्मद (28) शामिल हैं। ये तीनों पाकिस्तान के सिंध प्रांत के सुजावल जिले की जत्ती तहसील के जीरो प्वाइंट गांव के रहने वाले हैं। इनके पास से इंजन फिट किए हुए लकड़ी का नाव, आईस बॉक्स, प्लास्टिक जरीकेन, मछली पकडऩे की जाल, बर्तन, पेट्रोल जप्त किए गए हैं। बीएसएफ की ओर से इस इलाके में सघन गश्त अभियान जारी है।

एक महीने में पकड़े 95 भारतीय मछुआरे

पिछले कुछ समय से पाकिस्तानियों की नीयत में खोट दिनोदिन बढ़ती जा रही है। गौर किया जाए तो एक महीने में ही करीब 95 भारतीय मछुआरों को किसी न किसी तरीके से अपहरण कर लिया गया है।

द्वारका, ओखा के मछुआरों के मुताबिक उनके समुदाय में भय का वातावरण बना हुआ है। उनका कहना है कि सरकार की ओर से प्रभावी प्रयास नहीं किए जा रहे हैं।

जनता का भविष्य प्राथमिकता : धर्मेन्द्र

गुजरात उच्च न्यायालय के प्रतिष्ठित अधिवक्ता एवं कारगिल युद्ध में सक्रिय भूमिका निभाने वाले धर्मेन्द्र सिंह राजपूत ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में जनता की शक्ति दिखाने के लिए डी. ङ्क्षसह युवा संगठन की स्थापना की गयी है। एक सप्ताह पूर्व स्थापित की गयी इस संस्था में अब तक पांच सौ वकील एवं पूर्व सैनिक सहित हजारों सदस्य शामिल हुए हैं। धर्मेन्द्र ङ्क्षसह राजपूत ने उक्त विचार शनिवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन के दौरान व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि आज कई नेता कानून के साथ खिलवाड़ कर के राजनीति कर रहे हैं। जबकि उनका संगठन कानून के सहारे राजनीति करने के पक्ष में है। इसी उद्देश्य से रविवार को मकरपुरा स्थित एयरफोर्स स्टेशन के समीप हनुमानजी मंदिर के समीप गरबा मैदान में सार्वजनिक सभा एवं भंडारा का आयोजन किया गया है। जिसमें बीस से पच्चीस हजार लोग शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि इस सार्वजनिक सभा में जनता की मूलभूत समस्याओं के साथ ही स्थानीय विधायकों, पार्षदों एवं सांसद की निष्क्रियता पर विचार-विमर्श किया जाएगा।

इसके साथ ही आगामी चुनावों के दौरान संगठन की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। धर्मेन्द्र सिंह राजपूत ने कहा कि आज शहर की जनता धनियानी गांव स्थित कचरा प्लांट की दुर्गंध, मकानों का एन.ए. महानगरपालिका की सुविधाओं का कानूनी अमल, बिजली बिल के नाम पर लूट, विद्यालयों एवं निजी अस्पतालों में शुल्क के नाम पर लूट आदि समस्याओं से त्रस्त हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned