सिविल अस्पताल के बाहर ट्रीटमेंट ऑन व्हील्स शुरू

एम्बुलेंस के मरीजों को दी जाने लगी सुविधा

By: MOHIT SHARMA

Published: 21 Apr 2021, 10:38 PM IST

अहमदाबाद . सिविल अस्पताल कैंपस के 1200 बेड अस्पताल (कोविड हॉस्पिटल) के बाहर 108 एम्बुलेंस में आने वाले कोरोना के मरीजों का अब अस्पताल में पहुंचने से पहले ही प्राथमिक उपचार शुरू कर दिया गया है। अस्पताल की चिकित्सा कर्मियों की टीम ऐसे मरीजों की देखभाल करने लगी है। इसमें ऑक्सीजन से लेकर एन्टीबायोटिक दवाइयां भी शुरू की गई जा रही हैं। इसे ट्रीटमेंट ऑन व्हील्स नाम दिया गया है। कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमित मरीजों में काफी वृद्धि हो रही है। ऐसे में सिविल अस्पताल कैंपस के 1200 बेड अस्पताल में एक के बाद एक एम्बुलेंस मरीजों को लेकर आती है। इनमें से जरूरतमंद मरीजों को पहले भर्ती किया जाता है। अब अस्पताल प्रशासन ने एम्बुलेंस में इन्तजार करने वाले मरीजों का प्राथमिक ट्रीटमेंट एम्बुलेंस में ही करना शुरू कर दिया है। इस ट्रीटमेंट में मरीज को ऑक्सीजन एवं एन्टीबायोटिक दवाइयां भी शुरू कर दी जाती हैं। मरीजों को बचाने का यह निर्णय लिया है। इस व्यवस्था में अस्पताल के आरएमओ, सीएमओ, जूनियर डॉ. एसोसिएशन के चिकित्सक, नर्सिंग स्टाफ एवं पेरामेडिकल की टीम लग गई है। जरूरत के आधार पर मरीजों को सभी तरह की दवाई भी एम्बुलेंस में उपलब्ध करवाई जा रही हैं।

बेड उपलब्ध होने तक रहती है यह व्यवस्था
अस्पताल में कोरोना का बेड उपलब्ध होने तक ट्रीटमेंट ऑन व्हील की व्यवस्था की गई है। जूनियर एसोसिएशन के चिकित्सक डॉ. योगेश मोरी का कहना है कि एम्बुलेंस में भर्ती पक्रिया पूरी होने तक प्रतिक्षा करने वाले मरीजों को प्राथमिक उपचार की व्यवस्था की गई है। यह व्यवस्था तब तक होती है जब तक मरीज को अस्पताल में बेड नहीं मिल जाते। इसके लिए टीम कार्यरत है।

...ताकि किसी को परेशानी न हो
कोरोना संक्रमण इन दिनों काफी गंभीर स्थिति से गुजर रहा है। ऐसे में सिविल अस्पताल में बड़ी संख्या में मरीज आ रहे हैं। मरीजों को भर्ती प्रक्रिया में किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसलिए ट्रीटमेंट ऑन व्हील की व्यवस्था की गई है। इसमें ऑक्सीजन और दवाइयों की पर्याप्त व्यवस्था है।
डॉ. जयप्रकाश मोदी, चिकित्सा अधीक्षक, सिविल अस्पताल अहमदाबाद

COVID-19
MOHIT SHARMA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned