किशोरी की हत्या के आरोपी दो मित्रों को 9 दिन के रिमांड पर भेजा

किशोरी की हत्या के आरोपी दो मित्रों को 9 दिन के रिमांड पर भेजा

Rajesh Bhatnagar | Publish: Nov, 10 2018 11:55:33 PM (IST) Ahmedabad, Ahmedabad, Gujarat, India

एक आरोपी का पिता भी मदद करने पर गिरफ्तार

राजकोट. गिर सोमनाथ जिले के कोडिनार में ऊना बाइपास रोड पर एक किशोरी का शव मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी दो मित्रों को गिरफ्तार कर शुक्रवार को कोडिनार के न्यायालय में पेश किया। वहां से दोनों का 9 दिन का रिमांड मंजूर किया गया। इधर, एक आरोपी के पिता को मदद करने पर शुक्रवार रात को गिरफ्तार किया गया है।
सूत्रों के अनुसार गिर सोमनाथ जिले के कोडिनार में ऊना बाइपास रोड पर बुधवार सवेरे विमांशी बिमल ठकरार (17 वर्ष) का शव मिला। 11वीं कक्षा में अध्ययनरत किशोरी के गले, कान, पेट सहित शरीर पर छुरे के कुल 35 घाव मिले। वह अपनी सहेली के घर पुस्तक देने के लिए कहकर मंगलवार रात को घर से निकली थी।

5 हजार लोगों ने निकाली मौन रैली
देर रात तक वापस ना लौटने पर परिवारजनों ने खोजबीन शुरू की। इस बीच, बुधवार सवेरे उसका शव मिला। इस वारदात से लोहाणा समाज के लोगों में शोक व्याप्त हो गया। करीब 5 हजार लोगों ने मौन रैली निकालकर तहसीलदार व पुलिस अधिकारी को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर फास्ट ट्रेक कोर्ट में मामला चलाने की मांग की।
पुलिसकर्मियों ने किशोरी के शव को पैनल पोस्टमार्टम करवाने के लिए जामनगर भिजवाकर जांच शुरू की। मामले की गंभीरता को ध्यान में रखकर वेरावल से उपाधीक्षक जी.डी. बांभणिया भी कोडिनार पहुंचे। मोबाइल फोन की कॉल डिटेल के आधार पर जांच के दौरान कोडिनार निवासी सहेली धरती जयप्रकाश उपाध्याय व कश्यप विजय पुरोहित को हिरासत में लिया।

एक तरफा प्रेम का अंजाम हत्या
प्रारंभिक पूछताछ के अनुसार किशोरी विमांशी से कश्यप एक तरफा प्रेम करता था, किशोरी को मना ना पाने के कारण कश्यप ने विमांशी को धरती के जरिये मिलने के लिए बुलाया। बाद में अपहरण कर हत्या की। पुलिस ने मृतका के पिता बिमल ठकरार की शिकायत पर मामला दर्ज कर धरती व कश्यप को गिरफ्तार किया। दोनों आरोपियों को कोडिनार के न्यायालय में पेश करने पर शुक्रवार को नो दिन का रिमांड मंजूर किया गया।
कश्यप के पुजारी पिता ने किया हत्या के सबूत मिटाने का प्रयास
जानकारी के अनुसार अंबुजा स्कूल में अध्ययनरत विमांशी ठकरार के अलावा आरोपी कश्यप पुरोहित भी अंबुला स्कूल में अध्ययन करता है। कक्षा 12वीं के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी। कश्यप के पिता पुजारी हैं। कश्यप ने ऊना बाइपास रोड स्थित शिव मंदिर के समीप विमांशी पर छुरे से वार कर उसकी हत्या कर दी। सूचना मिलने पर कश्यप के पिता ने सबूत मिटाने का प्रयास किया और हत्या के लिए उपयोग किया गया छुरा छुपा दिया। पुलिसकर्मियों ने आरोपी कश्यप के पिता विजय पुरोहित को भी शुक्रवार रात को गिरफ्तार किया है। उपाधीक्षक जी.डी. कश्यप जांच कर रहे हैं।

Ad Block is Banned