Gujrat News : पतंगों से अटा रहा आसमान

दिनभर पतंगबाजी, तो शाम ढलते ही दिखा आतिशबाजी का नजारा, Uttarayan, Makarsankranti, Gujrat News, Ahmedabad News

अहमदाबाद. मंगलवार को सड़कों पर सुबह से ही यातायात बंद जैसा रहा, तो आसमान में पतंगों के चलते ट्रैफिक जाम जैसा दृश्य था। रंगबिरंगी पतंगें डोर के जालों के बीच जगह बनाने की कोशिश कर रही थीं। इस कोशिश में कुछ पतंगें कट रही थीं, तो कुछ काटते हुए आगे बढ़ रही थीं। सबकी निगाहें आसमान की ओर टिकी हुई थीं। हर व्यक्ति मानों पतंगों के साथ आसमान को छूने की कोशिश कर रहा था। एक-दूसरे की पतंगों को काटते हुए लोग ''ए काप्यो छे...लपेट..." के उद्घोष लगाना नहीं भूल रहे थे। दिनभर पतंगबाजी के बाद शाम ढलते ही आतिशबाजी का नजारा देखने को मिला।


कुछ इसी तरह का नजारा पतंग पर्व उत्तरायण पर देखने को मिला। अहमदाबाद से लेकर राजकोट, वडोदरा, जामनगर, आणंद-खेड़ा सहित गुजरातभर में मकरसंक्रांति का पर्व मंगलवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। उत्तरायण पर्व को लेकर चारों ओर सुबह से ही जबर्दस्त उत्साह देखा गया। सुबह से ही समूचे गुजरात पर पतंगबाजी का सुरूर छा गया।


मंगलवार को दिन निकलते ही लोग अपने-अपने घर की छतों पर पहुंच गए। छतों का नजारा कुछ ऐसा था कि बच्चे और युवक-युवतियां नए-नए परिधान पहन कर पतंग-डोर के साथ उत्तरायण पर्व मनाने को तैयार थे। किसी ने आंखों पर चश्मे पहन रखे थे, तो कोई विभिन्न मुखाकृतियों का मुखौटा लगा कर छत पर पहुंचा। पतंगबाज अपने साथ खाने-पीने और मनोरंजन का सामान भी लेकर ही छतों पर पहुंचे गए थे। तिल के लड्डू, चिकी, ऊंधियुं-जलेबी जैसे व्यंजन के स्वाद के साथ छतों पर तेज संगीत का भी लोग लुत्फ ले रहे थे।


आतिशबाजी और डांस-मस्ती

सूर्यास्त के बाद भी छतों पर लोगों का जमावड़ा बना हुआ था। कहीं डांस-मस्ती का आलम था, तो कहीं आतिशबाजी का। कुछ लोगों ने दीपावली के बचे हुए पटाखों का आज उपयोग कर डाला। हालांकि इस बार टुक्कल बहुत कम दिखाई दिए।


बासी उत्तरायण पर भी रहा छतों पर जमावड़ा

उत्तरायण पर्व के दूसरे दिन बासी उत्तरायण पर भी बुधवार को छतों पर जमावड़ा रहा। मंगलवार की तरह बुधवार को भी बच्चों से लेकर युवक-युवतियां व बुजुर्ग सभी ने पतंगबाजी का लुत्फ उठाया।

दान-पुण्य का भी महत्व

इस दिन दान-पुण्य का भी महत्व होने से लोगों ने गायों को हरी घास खिलाई तो गरीब एवं बेसहारा लोगों को भोजन खिलाकर पुण्य कमाने का प्रयास किया।

Gyan Prakash Sharma Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned