ऑपरेशन के बाद पेट में रह गई रुई, महिला की मौत

चिकित्सक की लापरवाही!, निजीअस्पताल में हुई थी सिजेरियन डिलीवरी

By: Gyan Prakash Sharma

Published: 10 Jan 2019, 11:09 PM IST

वडोदरा. महिसागर जिले के लुणावाडा स्थित एक निजी अस्पताल में सिजेरियन डिलीवरी के रुई पेट में रहने के कारण महिला की मौत का मामला सामने आया है। प्रसव के बाद भी महिला के पेट का दर्द कम नहीं हुआ तो परिजन उसे वडोदरा के सयाजी अस्पताल में लाए, जहां जांच के दौरान पेट में रूई मिली। अस्पताल चिकित्सकों ने ऑपरेशन कर रुई को तो निकाल दिया, लेकिन महिला को नहीं बचा पाए। महिला की मौत के बाद परिजनों ने निजी अस्पताल के चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाया है।
लुणावाडा तहसील निवासी गीताबेन जयंती (३३) को प्रसव पीड़ा होने पर उन्हें शनिवार को लुणावाडा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां ऑपरेशन के बाद स्वस्थ बच्चे का जन्म हुआ था। प्रसव के बाद गीताबेन के पेट में दर्द एवं उल्टी होने के कारण सोमवार रात को सयाजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां जांच की तो पता चला कि पेट में कुछ रह गया है। सयाजी अस्पताल के चिकित्सकों ने ऑपरेशन कर पेट से रूई निकाली, लेकिन गीताबेन की मौत हो गई।

 

परिजनों का आरोप :
मृतका के फूफा झाळाभाई पगी का आरोप है कि लुणावाड़ा के आरोही अस्पताल में शनिवार को ऑपरेशन के बाद गीता ने बालक को जन्म दिया था, लेकिन स्वास्थ्य सही नहीं होने के कारण वडोदरा के एसएसजी अस्पताल में लाया गया, जहां ऑपरेशन कराना पड़ा था। उन्होंने आरोही अस्पताल के चिकित्सक डॉ. शैला भूरिया पर लापरवाही का आरोप लगाया है। ऐसे में चिकित्सक के विरुद्ध कार्रवाई करने की मांग की गई है।
सयाजी अस्पताल के डॉ. समीर कचेरीवाला के अनुसार पेट में दर्द एवं पेट फूलने व उल्टी होने की शिकायत के साथ महिला को भर्ती कराया गया था। पेट को फूला देखकर उसमें कुछ रहने की आशंका से सोनाग्राफी कराया, जिसमें पेट में कुछ फंसा दिखाई दिया था। ऑपरेशन कर उसे तत्काल निकाला गया।

 

आंतों में दु:ख के कारण रेफर किया :
दूसरी ओर, आरोही अस्पताल के डॉ. शैला भूरिया का कहना है कि गीताबेन को शनिवार को डिलीवरी के लिए भर्ती कराया गया था। डिलीवरी के बाद आंतों में दु:ख होने की शिकायत उठी तो मरीज को सोमवार को वडोदरा के सयाजी अस्पताल में रेफर किया था।

Gyan Prakash Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned