HSRP : वाहनों में नंबर प्लेट लगाने के लिए आरटीओ में कतारें

HSRP :  वाहनों  में नंबर प्लेट लगाने के लिए आरटीओ में कतारें

Pushpendra R.Singh Rajput | Publish: Feb, 15 2018 10:04:08 PM (IST) Ahmedabad, Gujarat, India

डीलरों पर वाहन चालकों से ज्यादा वसूली का आरोप

गांधीनगर. अब चाहे पुराने हों या नए वाहन, सभी वाहन चालकों को हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगाना जरूरी हो गया है। परिवहन विभाग ने पहले नंबर प्लेट लगाने की अवधि 15 फरवरी रखी थी, लेकिन अब तक कई वाहन चालक नंबर नहीं लगवा पाए हैं। इसके चलते अब यह तिथि बढ़ाकर 31 मार्च की गई है ताकि वाहन चालक परेशान ना हों और वाहन चालकों को कोई भी गुमराह ना कर सकें। गुरुवार को भी न सिर्फ अहमदाबाद बल्कि वाल आरटीओ में नंबर प्लेट लगाने को वाहन चालक उमड़ पड़े। हालांकि नंबर प्लैट लगाने को पहले से ही अप्वाइन्टमेन्ट लेना होता है।

राज्य के सभी आरटीओ कार्यालयों और डीलरों के नेटवर्क के जरिए इन नंबर प्लेट को लगाने की व्यवस्था की गई। वाहन चालकों में भी जागरूकता आ रही है और एचएसआरपी भी फीट करा रहे हैं। ऐसे स्थिति में वाहन चालकों को दिक्कत नहीं हो इसके चलते यह अवधि बढ़ाई गई। अनाधिकृत नंबर प्लेट वाले वाहन पर 500 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा।

जहां द्विचक्री और त्रिचक्रीय वाहनों में 89 रुपए और चार पहिया वाहनों और भारी वाहनों में 150 रुपए ज्यादा चार्ज लेकर हाई सिक्युरिटी नंबर प्लेट लगाई जा रही है।

 

RTO

हालांकि परिवहन आयुक्त ने चेताया है कि जो भी वाहन डीलर निर्धारित राशि से ज्यादा राशि वसूलेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उनकी डीलरशिप भी रद्द कर दी जाएगी, लेकिन लोगों का आरोप है कि कई डीलर्स के कर्मचारी ऐसे हैं जो वाहन चालकों से ज्यादा राशि वसूलते हैं।

सड़क परिवहन विभाग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट और केन्द्र सरकार के भूतल परिवहन मंत्रालय ओर से वाहनों में एचएसआरपी नंबर प्लेट फिट कराने की अवधि 31 मार्च तक बढ़ा दी गई है।

अब तक 7 लाख वाहनों में एचएसआरपी नंबर प्लेट
राज्य में सभी वाहनों में एचएसआरपी नंबर प्लेट फिट करने की अवधि 15 फरवरी तक रखी गई थी। 16 नवम्बर 2012 के बाद से पंजीकृत सभी वाहनों में एचएसआरपी नंबर प्लेट का होना जरूरी है। जानकारी के मुताबिक राज्य में एक करोड़ वाहनों में एचएसआरपी नंबर प्लेट फिट करने हैं, लेकिन अब तक करीब 7 लाख वाहनों में भी ऐसा किया जा चुका है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned