वायरल अश्लील वीडियो हार्दिक के होने का दावा!

पाटीदार आरक्षण आंदोलन को बुलंद कर राज्य सरकार की नींद ***** करने वाले आंदोलन के चेहरे हार्दिक पटेल की मुसीबत और बढ़ गई हैं। यू-ट्यूब पर रविवार को वायरल

By: मुकेश शर्मा

Published: 14 Nov 2017, 05:05 AM IST

अहमदाबाद।पाटीदार आरक्षण आंदोलन को बुलंद कर राज्य सरकार की नींद ***** करने वाले आंदोलन के चेहरे हार्दिक पटेल की मुसीबत और बढ़ गई हैं। यू-ट्यूब पर रविवार को वायरल हुए १०-१० मिनट के दो कथित अश्लील वीडियो में दिखने वाले युवक के हार्दिक पटेल होने का दावा किया गया है। हालांकि युवक हार्दिक ही हंै इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। इसे जारी करने वाले युवक ने ऐसा दावा करते हुए लिखा है कि यह तो झांकी है, अभी बहुत आना बाकी है। यानि कुछ और वीडियो वायरल हो सकते हैं।वायरल वीडियों में से एक में दिखाई देने वाले युवक कथित हार्दिक एक युवती से बातचीत करते दिखाई दे रहा है।


जबकि दूसरे वीडियो में वह आपत्तिजनक स्थिति में दिखाई दे रहे हैं। इसमें भी दिखने वाले युवक के हार्दिक होने का दावा किया है। दोनों ही वीडियो 16 मई २०१७ की रात नौ बजे व उसके कुछ मिनट बाद के हैं। एक बेडरूम का दृश्य है। हालांकि यह कौन सी जगह है और इसमें दिखने वाली युवती कौन है? इसका पता नहीं चल पाया है।

यह है पहले वीडियो में

वीडियो को वायरल करने वाले ने इसके नीचे ‘पाटीदार समाज और गुजरात के गद्दार हार्दिक की कामलीला...’ टाइटल देते हुए हार्दिक से जबाव भी मांगे हैं कि यह महिला कौन है?, कौन सा स्थल है?, गुजरात की जनता को गुमराह कर यह क्या कर रहा है?, यह महिला तेरी मंगेतर तो नहीं है, तो फिर कौन है?, तुम समाज को किस मार्ग पर ले जाना चाहते हो?, यह आरक्षण की लड़ाई है या तेरी रंगरेलियां मनाने की?, भगवान, समाज और गुजरात की भोली जनता तुझे कभी माफ नहीं करेगी।

दूसरे वीडियो में यह है :

‘हार्दिक का असली चेहरा’...शीर्षक दिया है। इसमें लिखा है कि गुजरात की अस्मिता को ठेस पहुंचाने वाला नराधम का असली चेहरा, ये तो झांकी है और बहुत आना बाकी है।

गंदी राजनीति की शुरुआत : हार्दिक

हार्दिक ने वायरल वीडियो पर कहा कि गुजरात में चुनाव हैं। आंदोलन मजबूत स्थिति में है। ऐसे में इस प्रकार के आरोप बारम्बार लगने वाले हैं। यह उन्हें बदनाम करने की साजिश है। अभी तो ऐसे व्यक्ति भी सामने आएंगे, जो खुलकर आरोप लगाएंगे। गंदी राजनीति की शुरुआत हुई है। मैं वीडियों देखकर जरूरत पडऩे पर कानूनी कार्रवाई की दिशा में भी सोचूंगा। उन्हें तो पहले से जानकारी मिली थी कि उन्हें बदनाम करने के लिए बैंकॉक से उनके मॉर्फ वीडियो बनाए जा रहे हैं। हार्दिक ने आरोप लगाया कि सत्ता में बैठे लोग उनके साथ महिला के सम्मान से भी खिलवाड़ कर रहे हैं। यदि वह दोषी होंगे तो उनकी सभाओं में जनता खुद ही आना बंद कर देगी। वह आरक्षण की लड़ाई जारी रखेंगे। हार्दिक ने यह भी आरोप लगाया कि ऐसा वीडियो तो उसी दिन सामने आना था जिस दिन कांग्रेस नेता अहमद पटेल के अस्पताल से संबंध रखने वाले आईएस आतंकी के पकड़े जाने पर उनसे जबाव मांगा गया था, लेकिन तब किसी ने बोल दिया कि यह दांव उल्टा पड़ सकता है।

होनी चाहिए जांच: लालजी पटेल

सरदार पटेल ग्रुप (एसपीजी) के अध्यक्ष लालजी पटेल ने कहा कि वीडियो की सत्यता की जांच होनी चाहिए। हार्दिक अभी भी परिक्व नहीं है, उसे सोच समझकर बोलना चाहिए और कदम उठाने चाहिए।

गंदी राजनीति की शुरुआत : हार्दिक

हार्दिक ने वायरल वीडियो पर कहा कि गुजरात में चुनाव हैं। आंदोलन मजबूत स्थिति में है। ऐसे में इस प्रकार के आरोप बारम्बार लगने वाले हैं। यह उन्हें बदनाम करने की साजिश है। अभी तो ऐसे व्यक्ति भी सामने आएंगे, जो खुलकर आरोप लगाएंगे। गंदी राजनीति की शुरुआत हुई है। पढ़ें गंदी ञ्च पेज १०

मैं वीडियों देखकर जरूरत पडऩे पर कानूनी कार्रवाई की दिशा में भी सोचूंगा। उन्हें तो पहले से जानकारी मिली थी कि उन्हें बदनाम करने के लिए बैंकॉक से उनके मॉर्फ वीडियो बनाए जा रहे हैं। हार्दिक ने आरोप लगाया कि सत्ता में बैठे लोग उनके साथ महिला के सम्मान से भी खिलवाड़ कर रहे हैं। यदि वह दोषी होंगे तो उनकी सभाओं में जनता खुद ही आना बंद कर देगी। वह आरक्षण की लड़ाई जारी रखेंगे। हार्दिक ने यह भी आरोप लगाया कि ऐसा वीडियो तो उसी दिन सामने आना था जिस दिन कांग्रेस नेता अहमद पटेल के अस्पताल से संबंध रखने वाले आईएस आतंकी के पकड़े जाने पर उनसे जबाव मांगा गया था, लेकिन तब किसी ने बोल दिया कि यह दांव उल्टा पड़ सकता है।


साबित करें झूठा है वीडियो, पाचवें दिन और वीडियो वायरल करूंगा : अश्विन

अश्लील वीडियो वायरल होने के एक दिन बाद सोमवार को मीडिया के सामने आए हार्दिक पटेल के एक पूर्व साथी अश्विन पटेल ने कहा कि वीडियो में दिखाई देने वाला शख्स हार्दिक पटेल ही है। यदि वह नहीं हैं तो चार दिनों में साबित करें। नहीं तो पांचवें दिन वह एक और वीडियो वायरल करेंगे, जो मनाली के होटल की है। हार्दिक पटेल से अलग होकर राष्ट्रीय आरक्षण संघर्ष समिति बनाने वाले समिति के राष्ट्रीय संयोजक अश्विन पटेल (सांकडासरिया) ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनके पास वायरल हुए वीडियो से जुड़े कई और प्रमाण हैं। उन्होंने हार्दिक के अलावा हार्दिक के अन्य साथियों पर भी समाज की कई लड़कियों का शोषण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि समय आने पर सबके सामने रखूंगा।

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned