नर्मदा बांध में १२६ मीटर के करीब पहुंचा जलस्तर

क्षमता का ६३ फीसदी संग्रह

Omprakash Sharma

September, 1309:34 PM

Ahmedabad, Gujarat, India

अहमदाबाद. मध्यप्रदेश व अन्य भागों में पिछले दिनों हुई अच्छी बारिश के कारण राज्य के सबसे बड़े एवं महत्वपूर्ण सरदार सरोवर (नर्मदा) बांध में पानी की आवक तेजी से होने लगी है। गुरुवार तक बांध का जलस्तर १२६ मीटर के करीब पहुंच गया। इसके साथ ही क्षमता का ६३ फीसदी तक जलसंग्रह हो गया है। राज्य के अन्य बांधों में भी पिछले दिनों के मुकाबले जलसंग्रह बढ़ा है। फिलहाल राज्य के प्रमुख २०३ बांधों में से २५ में चादर भी चल गई है।
नर्मदा बंाध में१३८.६८ मीटर के मुकाबले गुरुवार को पानी का स्तर १२६ मीटर के करीब पहुंच गया है। बांध की कुल संग्रह क्षमता ९४६० मिलियन क्यूबिक मीटर (एमसीएम) है। इसके मुकाबले फिलहाल ५९५२ एमसीएम जलसंग्रह हो गया है। आगामी दिनों में बांध में जलसंग्रह बढऩे की संभावना है।
प्रमुख २०३ बांधों में ५४ फीसदी संग्रह
प्रदेश के प्रमुख बांधों में अब तक जलसंग्रह ५४ फीसदी ही सका है। इन सभी बांधों में जलसंग्रह की क्षमता १२९३२ एमसीएम है, जिसके मुकाबले ६९७४ एमसीएम ही जलसंग्रह हुआ है। राज्य के सभी छोटे-बड़े बांधों में कुल जलसंग्रह की क्षमता २५२२० एमसीएम है। इसके मुकाबले अब तक १४३१४ एमसीएम जलसंग्रह हुआ है, जो करीब ५७ फीसदी है।
२५ बांधों में चादर चली
राज्य के मेजर बांधों में से २५ में फिलहाल चादर चली हुई है। इनमें सौ फीसदी जलसंग्र है। इन समेत ३७ बांधों में नब्बे फीसदी जलसंग्रह होने से उन्हें हाईअलर्ट किया गया है। नौ बांधों में ८० से ९० फीसदी तक जलसंग्रह हो गया है जिन्हें अलर्ट और इतने ही बांधों में ७० से ८० फीसदी तक जलंसग्रह होने पर उन्हें वार्निंग पर रखा गया है। फिलहाल कुछ बांधों में पानी की आवक हो रही है। दूसरी ओर अन्य १४८ बांधों में जलसंग्रह शून्य से ७० फीसदी तक हुआ है। कई बांध ऐसे भी हैं जिनमें क्षमता का एक फीसदी भी जलसंग्रह नहीं हुआ है। इस तरह के अधिकांश बांध सौराष्ट्र और कच्छ रीजन में हैं। सबसे अधिक बांधों की संख्या सौराष्ट्र रीजन में हैं।

Omprakash Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned