सड़क किनारे खड़े टैंकर में जा घुसी तेज रफ्तार कार, चार जनों की मौत, एक गंभीर घायल

राष्ट्रीय राजमार्ग 8 पर रविवार दोपहर अजमेर की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार पेट्रोल पम्प के सामने सड़क किनारे खड़े टैंकर में जा घुसी। दुर्घटना में कार सवार परिवार के तीन जनों और टैंकर के खलासी की मौत हो गई।

By: kamlesh

Published: 22 Nov 2020, 06:42 PM IST

खरवा (अजमेर)। राष्ट्रीय राजमार्ग 8 पर रविवार दोपहर अजमेर की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार पेट्रोल पम्प के सामने सड़क किनारे खड़े टैंकर में जा घुसी। दुर्घटना में कार सवार परिवार के तीन जनों और टैंकर के खलासी की मौत हो गई। गंभीर रूप से घायल कार चालक को ब्यावर से जयपुर रेफर कर दिया गया।

सदर थाना सीआई सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि कार सवार हरियाणा गुडग़ांव के पीपली निवासी देशराज सिंह का महाराष्ट्र में कंस्ट्रेक्शन का काम है। वे गांव में दीपावली का त्योहार मनाकर परिवार के साथ महाराष्ट्र जा रहे थे। दुर्घटना में कार चला रहे देशराज गंभीर घायल हो गए, जबकि पत्नी शुषमा, पुत्री देविका और पुत्र बल्लू की मौत हो गई। शुषमा की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दोनों बच्चों ने ब्यावर के अमृतकौर चिकित्सालय में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। कार की चपेट में आए टैंकर के खलासी आगरा निवासी अरबाज की भी मौके पर ही मौत हो गई।

खाना खाने के लिए रुके
उत्तर प्रदेश के टैंकर चालक व खलासी खरवा के पास पैट्रोल पम्प के सामने खाना खाने के लिए रुके। उन्होंने टैंकर के पास खाना तैयार कर लिया था। खलासी अरबाज किसी काम से टैंकर के पीछे गया। इसी दौरान तेज रफ्तार कार उसे चपेट में लेते हुए टैंकर के नीचे जा घुसी। दुर्घटना में अरबाज का शव क्षत-विक्षत हो गया। टैंकर चालक भी उसे नहीं पहचान सका। बाद में उसके पर्स में मिले आधार कार्ड से उसकी शिनाख्त हुई।

लोग हुए आक्रोशित
दुर्घटना के बाद कार टैंकर के नीचे बुरी तरह फंस गई। कार में सवार लड़के व लड़की को मौके पर जमा लोगों ने जैसे-तैसे बाहर निकालकर चिकित्सालय भिजवाया। लोग कार से देशराज व उनकी पत्नी को नहीं निकाल पा रहे थे। इस दौरान उन्होंने एम्बुलेंस और क्रेन नहीं पहुंच पाने को लेकर रोष जताया। बाद में पुलिस, एम्बुलेंस और क्रेन पहुंचने पर उनका गुस्सा शांत हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned