रीट में बढ़े 50 हजार अभ्यर्थी, देंगे टीचर बनने के लिए एग्जाम

Chandra Prakash Joshi

Publish: Dec, 08 2017 08:31:31 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India
रीट में बढ़े 50 हजार अभ्यर्थी, देंगे टीचर बनने के लिए एग्जाम

रीट के अभ्यर्थियों को आवेदन में त्रुटि सुधार के लिए एक मौका दिया जाएगा।

चंद्रप्रकाश जोशी/अजमेर।

राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) में बीते वर्ष के मुकाबले इस बार करीब 50 हजार अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। रीट का आयोजन 11 फरवरी 2018 को किया जाएगा। प्रवेश पत्र एक फरवरी से वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित रीट के आवेदन की अंतिम तिथि भी गुजर चुकी है। रीट में विगत वर्ष 9 लाख 5 हजार 534 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था जिनमें से 8 लाख 14 हजार 977 अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे।

इस वर्ष रीट में 9 लाख 55 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं जो पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग 50 हजार अधिक हैं। आवेदन की अंतिम तिथि गुजरने के बाद अब बोर्ड की ओर से आवेदन पत्रों की जांच की जाएगी। कार्यक्रम के अनुसार

मिलेगा ऑनलाइन त्रुटि सुधार का मौका

बोर्ड सूत्रों ने बताया कि बोर्ड की ओर से शीघ्र ही रीट के अभ्यर्थियों को आवेदन में त्रुटि सुधार के लिए एक मौका दिया जाएगा। अभ्यर्थी ऑनलाइन ही आवेदन संबंधी त्रुटि सुधार सकेंगे। इसके तहत ऐसे अभ्यर्थी जिनके आवेदन में स्वयं के नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि या किसी अन्य जानकारी व स्पेलिंग आदि में त्रुटि सुधार का मौका मिलेगा।

इसी माह खोला जाएगा पोर्टल

अभ्यर्थियों की ओर से त्रुटि सुधार के लिए इसी माह (दिसम्बर) में ही रीट का पोर्टल खोला जाएगा। निर्धारित तिथि को पोर्टल खुलने पर अभ्यर्थी ऑनलाइन त्रुटि सुधार कर सकेंगे। इससे अभ्यर्थियों को अजमेर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड व्यक्तिश: उपस्थित होने से छुटकारा मिलेगा वहीं आर्थिक रूप से व समय की बचत होगी।

रीट से होगी शिक्षक भर्ती
पहले शिक्षक पात्रता के लिए आरटेट परीक्षा होती थी। भाजपा ने चार साल पहले शासन संभालने के बाद आरटेट के बजाय रीट परीक्षा कराने का फैसला किया। इस परीक्षा के माध्यम से ही राज्य में शिक्षकों की भर्ती होगी। हालांकि आरटेट उत्तीर्ण अभ्यर्थियों का प्रमाण पत्र छह साल के मान्य है। जबकि रीट का प्रमाण पत्र तीन साल के लिए ही मान्य होगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned