scriptACB could not even after four months, | एसीबी चार माह बाद भी नहीं लगा सकी रिश्वत के आरोपी भाजपा पार्षद पति रंजन शर्मा का सुराग | Patrika News

एसीबी चार माह बाद भी नहीं लगा सकी रिश्वत के आरोपी भाजपा पार्षद पति रंजन शर्मा का सुराग

प्रकरण में चालान पेश होने के साथ ही आरोपी दलाल को मिली जमानत

अजमेर

Published: November 19, 2021 02:07:05 am

मनीष कुमार सिंह

अजमेर.
पुश्तैनी भूखण्ड पर निर्माण की एवज में 40 लाख रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप में फरार भाजपा की महिला पार्षद के पति रंजन शर्मा का भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो चार माह बाद भी सुराग नहीं लगा सका है। एसीबी भले ही उसे ढूंढऩे में नाकाम रही हो लेकिन गुरुवार को महिला पार्षद और समर्थकों ने सोशल मीडिया पर आरोपी रंजन शर्मा का जन्मदिन मनाया। आरोपी के नेताओं के संरक्षण में होने की चर्चा है। जहां एसीबी अधिकारी भी हाथ डालने से कतरा रहे हैं।
एसीबी चार माह बाद भी नहीं लगा सकी रिश्वत के आरोपी भाजपा पार्षद पति रंजन शर्मा का सुराग
एसीबी चार माह बाद भी नहीं लगा सकी रिश्वत के आरोपी भाजपा पार्षद पति रंजन शर्मा का सुराग
एसीबी अजमेर चौकी चार माह बाद भी भाजपा पार्षद नीतू मिश्रा के पति रंजन शर्मा को ढूंढ नहीं सकी। जबकि उसका शहर में ही यहां-वहां फरारी काटना बताया जा रहा है। हालांकि फरारी के दौरान ही आरोपी की ओर से अदालत में पेश की गई अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज की जा चुकी है।
यह है मामला

एसीबी(इंटेलीजेंस यूनिट) ने 7 जुलाई को जौंसगंज स्थित कीमती जमीन पर निर्माण कार्य की एवज में 2 लाख की रिश्वत राशि लेते जीसीए चौराहे पर पार्षद पति के साथी कथित दलाल न्यू गोविन्द नगर निवासी किशन खंडेलवाल व बिहारी गंज निवासी देवेन्द्रसिंह को 2 लाख रुपए की रिश्वत राशि लेते दबोचा था। जबकि रंजन शर्मा फरार हो गया था। किशन व देवेन्द्र सिंह ने एसीबी के समक्ष महिला पार्षद के पति रंजन शर्मा के कहने पर परिवादी से रिश्वत की राशि लेना कबूला। एसीबी ने रंजन शर्मा, किशन खंडेलवाल व देवेन्द्रसिंह के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था जबकि महिला पार्षद नीतू मिश्रा की लिप्तता की जांच की जा रही थी।

मांगे थे 50, 40 लाख में सौदा

एसीबी पड़ताल में पार्षद पति रंजन शर्मा ने पत्नी के वार्ड में निर्माण कार्य कराने पर पहले परिवादी को धमकाते हुए काम रुकवाया। फिर 50 लाख की डिमांड की। बदले में पार्षद कोटा से सड़क, पानी, बिजली की सुविधाएं विकसित करने का प्रलोभन दिया। शर्मा ने रिश्वत के लिए बिचौलिए किशन व देवेन्द्र का इस्तेमाल किया। दलाल किशन, देवेन्द्रसिंह ने 40 लाख की रकम तय करते हुए निर्माण की स्वीकृति दिलाने की वादा किया।
पहले मांगे थे दस प्लॉट
रंजन शर्मा ने परिवादी ने जमीन समतल कराने की एवज में पहले 10 भूखंड मांगे। परिवादी ने जमीन पर भूखंड काटने पर कोई फैसला नहीं होना बताया तो उसने 50 लाख की मांग कर दी। डिमांड ज्यादा होने पर परिवादी ने चुप्पी साध ली। फिर शर्मा ने दलाल किशन, देवेन्द्र के जरिए सौदा तय किया।
इनका कहना है...

आरोपी की तलाश की जा रही है। पहले अग्रिम जमानत की अर्जी लगाई थी लेकिन खारिज हो गई। गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।
-सतनाम सिंह अनुसंधान अधिकारी(एएसपी) अजमेर एसीबी चौकी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

Mizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलापंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की पहली लिस्ट, 34 उम्मीदवारों को दिया टिकटदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारBJP की दूसरी लिस्ट जारी: 85 प्रत्याशियों में 15 महिलाएं, अदिति सिंह रायबरेली, रामवीर उपाध्याय को सादाबाद से टिकट, IPS असीम को मिला कन्नौजकोरोना की रफ्तार से ऑफलाइन हो सकती है 12वीं-10वीं की बोर्ड परीक्षा! CGBSE ने की ये तैयारीBHU के रजत जयंती से जुड़ी गांधी की स्मृतियों को NSUI ने किया याद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.