ACB TRAP: पार्टी को बोल दिया मैंने, करा दूंगा बढिय़ा फैसला.....

एसीबी की कॉल रिकॉर्डिंग में इनका जिक्र है। इसके अलावा एसीबी ने एफआईआर में मंडल के कनिष्ठ और वरिष्ठ सदस्यों की भी संलिप्तता भी मानी है।

By: raktim tiwari

Published: 20 Apr 2021, 08:25 AM IST

अजमेर. राजस्व मंडल घूसकांड में दलाल और निलंबित सदस्यों के खेल की जानकारी उनके रिश्तेदारों-पत्नियों को भी थी। एसीबी की कॉल रिकॉर्डिंग में इनका जिक्र है। इसके अलावा एसीबी ने एफआईआर में मंडल के कनिष्ठ और वरिष्ठ सदस्यों की भी संलिप्तता भी मानी है।

आपका सामान रख दिया...6 मार्च 2021: 19.08.54
निलंबित सदस्य सुनील शर्मा और उसकी पत्नी के बीच मोबाइल पर बातचीत होती है। शर्मा की पत्नी बोलती है...वो शशिकांतजी को कह देना उनका सामान मैंने उसमें रख दिया है....। इस पर शर्मा बोलता है...गाड़ी में आपका सामान रख दिया है...।

मेरा तो काम रह जाएगा ना...9 नवंबर 2020: 16.42.55
सुनील शर्मा और पूनम माथुर के बीच मोबाइल पर बातचीत होती है। सुनील पूनम के मामले में अविनाश से झगड़ा होने और उसके द्वारा अपने दोनों मामलों में रिलीज की एप्लीकेशन लगाने को कहता है...। पूनम माथुर रिलीज नहीं करने को कहती है...। सुनील कहता है..ऐसा नहीं कि अपने काम तो करा ले...और दूसरे के मामले में नहीं....मैं तो खारिज करूंगा। पूनम कहती है...आप उसकी तो खारिज कर देंगे....मेरा काम तो रह जाएगा ना..। पाटी को मैंने बोल दिया है....आप अभी तो इसे रिलीज मत करना.....।

फोन पर बात मत करो...19 दिंसबर 2020: 15.57.46
निलंबित सदस्य सुनील शर्मा और बी.एल.मेहरडा बातचीत करते हैं..। दोनों के बीच बेंच को लेकर वार्ता होती है...। मेहरडा कहता है...वो कल शशिकांत से मुलाकात हो गई थी....। शर्मा कहता है....ठीक है...फोन पर बात मत करो.....बाकी तो ठीक है.....। यहां शर्मा बाद में मिलने की बात कहता है....।

करा दूंगा बढिय़ा फैसला....7 अप्रेल 2020: 10.08.44
शशिकांत और रजनीकांत के बीच मोबाइल पर बातचीत होती है...। शशिकांत कहता है..जीतू बन्ना वाला जजमेंट करा लेते हैं। रजनीकांत कहता है...मैंने अभी इनको इसीलिए तैयार किया है..कि पैसे का कोई काम नहीं है....सिर्फ जमीन देंगे..। जीतू के मामले में अपने को एक हेक्टेयर माइन लेनी है...। आप मनमाफिक फैसला करा देना और नो अपील भी करा देना...। शशिकांत कहता है...जितना बढिय़ा से बढिय़ा होगा फैसला करा दूंगा....।

रिपोर्ट में एसीबी ने लिखा...
दलाल शशिकांत जोशी मंडल के सदस्य (निलंबित) सुनील शर्मा और बी.एल. मेहरडा से मिलीभगत करता था। वह राजस्व मंडल प्रकरणों में अपने मुवक्किलों से भारी रिश्वत लेकर उसी सप्ताह या मासिक अवधि में शर्मा और मेहरडा को राशि पहुंचाता था। शशिकांत कई बार शर्मा के वाहन अथवा अन्य वाहन में जयपुर जाकर रिश्वत देता था। राजस्व मंडल सदस्य मनोज नाग और मंडल के अन्य कनिष्ठ और वरिष्ठ सदस्यों की भी इस व्यापक भ्रष्टाचार के नेटवर्क में संलिप्तता नजर आती है।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned