फूस की कोठी में एडीए की ग्रुप हाउसिंग,घूघरा में व्यावसायिक योजना को मंजूरी

ईसी की बैठक में मिली मंजूरी

8 बिन्दुओं पर बनी सहमति

By: bhupendra singh

Published: 26 Aug 2020, 05:18 PM IST

अजमेर.अजमेर विकास प्राधिकरण ada डीआरएम drm कार्यालय के पास अपनी फूस की कोठी Phus ki kothi योजना में 13000 स्क्वायर यार्ड में गु्रप हाउसिंग group housing योजना लांच करेगा। इसके अलावा ग्राम घूघरा में वाणिज्यिक योजना, ग्राम गनाहेड़ा तहसील पुष्कर में होटल प्रयोजनार्थ योजना के ले आउट के प्राधिकरण की कार्यसमिति की बैठक में मंजूरी approved दी गई। इसके अलावा राजस्व ग्राम माकड़वाली में प्रोफेशनल इंस्टीट्टीयूट योजना का अनुमोदन किया गया। इन योजनाओं की लॉंंचिग के बाद प्राधिकरण का खाली खजाना भरेगा। प्राधिकरण आयुक्त रेणु जयपाल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में कुल 14 प्रस्तावों पर चर्चा की गई। कांगे्रस नेता महेन्द्र सिंह रलावता के पेट्रोल पम्प सहित दो अन्य पेट्रोल पम्प के प्रस्तावों को आगामी बैठक में रखे जाने पर सहमति बनी।

16 साल बाद बनी भूखंड मिलने की उम्मीद

प्राधिकरण की संयोगिता नगर योजना में 16 साल पूर्व नीलामी के जरिए भूखंड खरीदने वाले सुरेशचंद गुप्ता, वासुदेव बालानी,पदमापत, साधना रावत,बीना शर्मा तथा पूर्णिमा मूलचंदनी को अन्य योजना में भूखंड मिलने की उम्मीद बंधी है। इन्हें हरिभाऊ उपाध्याय नगर मुख्य तथा विस्तार, बी.के.कौल नगर,पंचशील नगर एबीसी तथा पंचशील नगर ई-ब्लॉक योजना में समतुल्य भूखंड दिए जाएंगे। इस प्रस्ताव को अनुमोदन किया गया। अब प्राधिकरण उपायुक्त उत्तर के स्तर पर भूखंड का आवंटन होगा। इनको भी मिली मंजूरी

नाजिम दरगाह कमेटी दरगाह ख्वाजा साहब अजमेर के शैक्षणिक प्रयोजन,प्राधिकरण परिसर में आईसीआई बैंक की शाखा खोलने,पृथ्वीराज नगर में पौधे लगाने तथा देखभाल, झलकारी बाई स्मारके सामने स्थित सर्कल एवं डिवाइडर के विकास एंव रख रखाव के प्रस्ताव पर सहमति बनी। बैठक में प्राधिकरण सचिव किशोर कुमार,उपायुक्त रामचन्द्र गरवा, अशोक कुमार सहित अन्य अधिकारी तथा जिला प्रशासन के प्रतिनिधि के रूप में अतिरिक्त कलक्टर शामिल हुए।

अतिक्रमियों से पार पाना चुनौती

जीसी-1 के सामने तथा डीआरएम कार्यालय सेलगती हुई प्राधिकरण की इस बेशकीमती भूमि पर लगातार अतिक्रमण हो रहे हैं। यहां सक्रिय भू-माफिया जमीन पर कब्जा कर जरूरतमंदों को सस्ती जमीन पर बेच रहे हैं। पूर्व प्राधिकरण ने यहां कई बार अतिक्रमण भी हटाए मुकदमें भी दर्ज करवाए लेकिन अतिक्रमी बाज नहीं आ रहे हैं। यहां दो-तीन धर्म स्थल भी बना कर जमीन कब्जाई गई है। होटल व थडिय़ों को भी संचालन हो रहा है।

readmore: आरटीआई से बचने के लिए ठेकेदारों को ‘गोपनीय पत्र ’

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned