एडीए के सर्वे में60 अतिक्रमियों की पहचान

अतिक्रमणकारियों में कई भू-माफिया और ग्रामीण
नोटिस देकर अतिक्रमण हटाने की तैयारी

बांडी नदी की मौत

By: bhupendra singh

Published: 17 Sep 2020, 07:04 AM IST

अजमेर.राजस्थान पत्रिका के बांडी नदी बचाओ अभियान के तहत अजमेर विकास प्राधिकरण ADA surveyने बांडी नदी के बहाव क्षेत्र में नए व पुराने 60 अतिक्रमण चिह्नित identifies किए हैं। इन अतिक्रमण में कई भू-माफिया, trespassers कारोबारी व ग्रामीण शामिल हैं। प्राधिकरण अब इन्हें नोटिस जारी कर बेदखल करेगा। नदी के बहाव क्षेत्र में कई बहुमंजिले पक्के मकान, टेंट गोदाम, धार्मिक स्थल, कम्प्यूटर इंस्टीट्यूट, मकान व दुकान, फैक्ट्री, पोल्ट्रीफार्म, पुलिया, चारदीवारी, बाड़े व अन्य कच्चे-पक्के अवैध निर्माण हुए हैं। वहीं कुछ ने पक्की सडक़ बनाकर कॉलोनी काटी दी। पूर्व में 46 लोगों को एडीए की धारा 67 के तहत नोटिस जारी किए गए थे। लेकिन उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इनके अतिक्रमण चिह्नित
आर.के.पुरम से ज्ञान विहार शिव मंदिर तक बोराज सीमा में अतिक्रमण पाए गए। जिनमें राजाराम मीणा, श्रीवास्व पोल्ट्री फार्म, भूखंडों की अज्ञात चारदीवारी, रमेश गढ़वाल, सीता, कमला, भगवानदास, अज्ञात व्यक्तियों द्वारा पुलिया निर्माण।

ग्राम हाथीखेड़ा

के खसरा नम्बर 1147 में तीजा, शेखी, प्रेम, ज्ञानी,रत्ना, प्रेमदेवी, श्रवण, सिंगा, रामेदेव, दूदा, कालू द्वारा काटों की बाड़ लगाकर कृषि कार्य करते हुए अतिक्रमण कर रखा है। खसरा नम्बर 1179 में पर सुबेसिंह चौधरी द्वारा पक्का निर्माण, पूनम भक्तानी द्वारा गोदाम बनाकर अतिक्रमण। खसरा नम्बर 1180 में अज्ञात द्वारा सडक़ निर्माण कर प्लॉटिंग कर भूखंड बेच दिए गए। खसरा नम्बर 955 पर 100 फीट लम्बी दीवार बनाकर अतिक्रमण किया गया।
ग्राम बोराज

में नदी के बहाव क्षेत्र में भागचंद, ताराचंद द्वारा 150 फीट लम्बी दीवार का निर्माण कर अतिक्रमण, ग्राम बोराज के खसरा नम्बर 449 में अनिल आचार्य, गोपाल सिंह भाटी, डॉ.डी.के.माथुर, पहलवान सिंह, अमित खंडेलवाल, महेन्द्र दायमा, मुन्ना भाई खादिम। खसरा नम्बर 2 में अज्ञात द्वारा पक्का मकान, मंजू शर्मा, जीवराज द्वारा 1200 वर्गमीटर पर चारदीवारी कर पशुपालन, बसंत सेठी पक्का मकान, राजेश जोशी, राजकपूर, राकेश वर्मा मकान व दुकान, राकेश वर्मा द्वारा चार मंजिला मकान, राकेश वर्मा का मकान व गोदाम, दीपा पारवानी, मोइनुद्दीन, ठाकुरी देवी, भोजराज, सुशील बीजावत, सुशील कंदोई, करण सिंह बेनीवाल,राजेन्द्र खंडेलवाल,राजकुमार साहू, गणेश,किशनचंद, हुकुमचंद गोयल,अशोक कुमार जोशी, राधेश्याम शर्मा निवासी भिनाय व अज्ञात,रविन्द्र अरोड़ा,धर्मी चंद,श्रवण, छोटू। ग्राम बोराज के खसरा नम्बर 4 पर सीताराम गोयल पुत्र शिव शंकर गोयल निवासी सिविल लाइन द्वारा पक्की चारदीवारी का निर्माण कर अतिक्रमण किया गया है।

इन्हें पूर्व में जारी हुए थे नोटिस

कोटड़ा के खसरा नम्बर 1265 में विक्रम सिंह, प्रदीप गर्ग, कुलदीप सिंह, प्रदीप/ रामलाल गर्ग,हर्ष जैन। हाथीखेड़ा में भीम सिंह व दो अज्ञात लोगों के खिलाफ नोटिस जारी हो चुके हैं।
कोटड़ा

सीताराम राम गोयल प्रदीप गर्ग, विक्रम सिंह राठौड़, कुलदीप सिंह, प्रदीप गर्ग/रामलाल गर्ग, प्रवीण मानकचंद माली,हर्ष जैन। बोराज में अज्ञात, रामनिवास शर्मा,नीरज जोशी,श्रवण रावत, राजेन्द्र अग्रवाल, साहू, किशनचंद केशवानी, हुकुम चन्द गोयल,सुशील बीजावत, भोजराज,पारसमल तीर्थानी,नइम खान,दीपा पारवानी,प्रतिभा चौधरी, राकेश वर्मा के दो निर्माण,राजेश जोशी,गुड्डू चौधरी, रविन्द अरोड़ा, गोपाल सिंह भाटी,अनीता अरोड़ा,महापरी,हरीश शर्मा,रतन लाल दायमा, रजिया बानो।
हाथीखेड़ा

भगवान दास,भीम सिंह रावत। घूघरा निवासी प्रहलाद गुर्जर, पप्पू गुर्जर,भंवर लाल गुर्जर।
कांकरदा भूड़ाबाय

कांकरदा भूड़ाबाय निवासी बादामी देवी,लाली रावत, मेवासिंह रावत,हंसराज रावत,मक्खन सिंह रावत,उम्मेद सिंह रावत का अतिक्रमण चिन्हित किया गया। नोटिस जारी हो चुके हैं।

फॉयसागर से आता है ओवरफ्लो पानी
बांडी नदी के जरिए फायसागर का पानी बरसात के दिनों में ओवरफ्लो होकर आना सागर में पहुंचता है। इसके अलावा नाग पहाड़ का बरसाती पानी, प्रगति नगर,कोटड़ा था ज्ञान विहार कॉलोनी का बरसाती व नाले का पानी बांडी नदी के जरिए होते हुए आना सागर में पहुंचता है । लेकिन अतिक्रमण के कारण बांडी नदी का अस्तित्व ही मिट रहा है।

readmore:बिना काम के ही ठेकेदार को कर दिया करोड़ों का भुगतान

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned