एडीए जोन- 7 का जोनल डवलपमेंट प्लान जारी

2 नवम्बर तक मांगे आपत्ति व सुझाव

By: bhupendra singh

Published: 14 Oct 2021, 06:44 PM IST

अजमेर. अजमेर विकास प्राधिकरण ने अजमेर मास्टर डवलपमेंट प्लान अजमेर रीजन-2013-2033 के तहत अधिसूचित नगरीय क्षेत्र सीमा में जोन-7 (मेयो कॉलेज क्षेत्र) के जोनल डवलपमेंट प्लान पर आमजन से आपत्ति / सुझाव आमंत्रित किए हैं। किसी व्यक्ति/ संस्था/ विभाग को कोई आपत्ति / सुझाव हो तो 2 अक्टूबर तक दर्ज करवा सकते हैं। आपत्ति/ सुझाव डाक से भी भेजे जा सकते हैं। जोनल डवलपमेंट प्लान (प्रारूप) को प्राधिकरण कार्यालय के ऑक्शन हॉल में देखा भी जा सकता है। इसे प्राधिकरण की वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट अरबन डॉट राजस्थान डॉट जीओवी डॉट इन/ एडीए पर भी देख जा सकता है।

यह हैं सीमाएं

जोन-7 (मेयो कॉलेज) की सीमाये-उत्तर में मार्टिनल ब्रिज से श्रीनगर रोड होते हुए बडलिया चौराहा तक, पूर्व मे बडलिया चौराहे से परबतपुरा बाईपास होते हुए दक्षिण दिशा मे परबतपुरा चौराहे तक, दक्षिण दिशा में परबतपुरा चौराहे से पश्चिम दिशा मे नसीराबाद रोड होते हुए उत्तर की ओर मार्टिंडल ब्रिज तक।

आवश्यक है जोनल डवलपमेंट प्लान

एडीए मास्टर प्लान तैयार कर चुका है। मास्टर प्लान के तहत ही जोनल डवलपमेंट प्लान बनाया जाना आवश्यक है। सेक्टर प्लान तैयार करने की भी तैयारी की जा रही है। प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत जोनल डवलपमेंट प्लान तैयार किया जाना आवश्यक है। अब तक आना सागर जोन,फायसागर जोन तथा खानपुरा जोन, विश्वविद्यालय जोन के लिए आपत्ति मांगते हुए इनका निस्तारण किया जा चुका है।
असर....टूटी चुप्पी, एडीए ने ध्वस्त किया अवैध निर्माण

अर्जुन लाल सेठी नगर में सरकारी भूमि कब्जाने का मामला

अजमेर. आदर्श नगर पुलिस थाने के पास एडीए की जमीन पर भू-माफिया कब्जा कर कॉलोनी काटने की तैयारी कर रहे भू माफिया पर प्रशासन का डंडा चला है। अब तक इस मामले शिकायत के बावजूद चुप्पी साधे बैठे अजमेर विकास प्राधिकरण ने जेसीबी के जरिए अवैध निर्माण ध्वस्त कर दिया है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि प्राधिकरण की यह जमीन पार्क के छोड़ी गई थी लेकि न इस बेशकीमति जमीन पर भूमाफि या अवैध कब्जा कर रहे हैं। पक्के निर्माण कर, बिजली-पानी के कनेक्शन तक ले लिए गए हैं। वर्तमान में भी मलवा डालकर बाउंड्रीवाल का निर्माण किया जा रहा है। बाद मे इसी जमीन के प्लॉट काट कर भोले भाले लोगो को बेचकर चांदी कूटी जाती है। राजस्थान पत्रिका ने मामले को प्रमुखता से उजागर किया था। इसके बार प्राधिकरण का अतिक्रमण निरोधक दस्ता हरकत में आया तथा जेसीबी के जरिए अवैध निर्माण ध्वस्त किया गया। प्राधिकरण की जमीन पर पशु बांधकर व मलवा डालकर भी कब्जा जताने की कोशिश की जा रही है।

read more: पट्टा जारी करने में अजमेर राज्य में पहले पायेदान पर

bhupendra singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned