Agitation: किया थाने का घेराव, कराया हत्या का मामला दर्ज

मृतक के परिजन और ग्रामीण थाने जा पहुंचे। उन्होंने हंगामा और प्रदर्शन किया। परिजनों का आरोप था कि मृतक कप्तान की होटल के लोगों ने हत्या की है।

By: raktim tiwari

Published: 29 Nov 2020, 12:24 PM IST

अजमेर.

होटल में खुदकुशी के मामले को लेकर रविवार को मृतक के परिजन और ग्रामीणों ने गंज थाने का घेराव कर लिया। परिजनों ने होटल मालिक और मैनेजर पर कथित तौर पर हत्या का शक जताया। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर शिकायत दर्ज कर ली। उधर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

शनिवार रात को देहली गेट शनि मंदिर स्थित एक होटल के स्टाफ रूम में कुक कप्तान चीता संदिग्ध हालात में फंदे पर लटका मिला था। गंज थाना थाना पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया था। रविवार सुबह मृतक के परिजन और ग्रामीण थाने जा पहुंचे। उन्होंने हंगामा और प्रदर्शन किया। परिजनों का आरोप था कि मृतक कप्तान की होटल के लोगों ने हत्या की है।

दो महीने से नहीं गया घर!

वकील अमजद खान ने बताया कि मृतक कप्तान रोहित हेमनानी की होटल पर काम करता था। वह दो महीने से घर नहीं गया था। उसने अपनी माता और भाई से रेस्टोरेंट संचालकों द्वारा प्रताडि़त और हिसाब नहीं करने का जिक्र किया था। शनिवार शाम 4.30 बजे बजे उसने चाय पीने के दौरान अपनी माता से बातचीत भी की। इसके कुछ देर बाद होटल संचालकों ने फोन कर कप्तान द्वारा फांसी लगाने की सूचना दी।

हत्या की आशंका...

खान ने कहा कि मृतक के घुटने पलंग की ओर मुड़े हुए थे। पुलिस को कमरे की तलाशी ली लेकिन कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला। इससे कप्तान की हत्या किए जाने की आशंका है। संचालकों ने इसे आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया है। उधर होटल मैनेजर प्रवीण विश्नोई ने बताया कि कप्तान शनिवार दोपहर तक मेहमानों को खाना खिलाने के बाद कमरे में था। वह होटल के स्टाफ रूम में रहता था घटना के वक्त बाकी स्टाफ किचन में था।

मृतक कप्तान के परिजनों ने होटल संचालकों के खिलाफ हत्या की आशंका जताते हुए शिकायत दी है। पुलिस मामला दर्ज किया है। शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्मार्टम कराया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

धर्मवीर सिंह, थाना प्रभारी गंज

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned