scriptAjmer : एडीए ने हटाया अतिक्रमण, स्टे के बावजूद कार्रवाई का लगाया आरोप | Ajmer: ADA removed encroachment, accused of taking action despite stay | Patrika News
अजमेर

Ajmer : एडीए ने हटाया अतिक्रमण, स्टे के बावजूद कार्रवाई का लगाया आरोप

बोराज पंचायत के रावत नगर क्षेत्र में अजमेर विकास प्राधिकरण ने जलदाय विभाग की टंकी व पंपिंग स्टेशन के लिए चिन्हित भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की।

अजमेरJun 27, 2024 / 05:04 pm

Supriya Rani

अजमेर. बोराज पंचायत के रावत नगर क्षेत्र में अजमेर विकास प्राधिकरण ने जलदाय विभाग की टंकी व पंपिंग स्टेशन के लिए चिन्हित भूमि से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की। करीब चार घंटे चली कार्रवाई में एडीए के दस्ते ने मौके पर बने टिनशेड के कक्ष व चारदीवारी हटा कर 900 वर्ग मीटर भूमि मुक्त कराई।

इस दौरान ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। मौके पर एडीए का पुलिस जाब्ता भी तैनात रहा। खास बात यह रही कि प्रकरण में संबंधित अदालत को लाइव स्ट्रीमिंग कर एडीए की कार्रवाई पर रोक लगाने की गुहार की। जिस पर अदालत ने प्रकरण में दोनों पक्षों को यथास्थिति के आदेश दिए। जब तक आदेश मौके पर पहुंचा एडीए की टीम अतिक्रमण ध्वस्त करने की कार्रवाई करती रही। भूखंड के काफी हिस्से में तारबंदी भी कर दी थी। शाम चार बजे मौके पर कोर्ट के आदेश पर कमिश्नर चरणजीत सिंह गंडहोक ने मौकेा मुआयना किया।

उपायुक्त भरत गुर्जर के निर्देश पर तहसीलदार सुनीता चौधरी आईएलआर भानुप्रताप, पवन सामरिया, अंजना कंवर, संतोष सहित अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शर्मा आदि के साथ मौके पर पहंची। मौके पर खसरा संया 1098 में सांवरा, राजेन्द्र, महावीर, मनोहर, सोभाग, गोविंद रामस्वरूप आदि मिले। एडीए की टीम को मौके पर करीब छह फीट ऊंची चारदीवारी, टीन शेड युक्त दो कक्ष बने मिले। एडीए की टीम ने 12 जून के आदेश की पालना में बुधवार को भूमि को अतिक्रमण मुक्त करा लिया।

न्यायालय के आदेशों की अवहेलना का आरोप

न्यायालय की यथास्थिति के आदेश के बावजूद भूखण्ड से रामस्वरूप व अन्य के भूखण्ड से निर्माण को ध्वस्त करने का आरोप लगाया गया है। रामस्वरूप के अधिवक्ता हेमेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि अपर सेशन न्यायाधीश (संया 2) की अदालत में रामस्वरूप व अन्य ने स्टे का वाद दायर किया । न्यायाधीश विकास सिंह चौधरी ने मामले में यथास्थिति तथा कमिश्नर नियुक्त करने के आदेश जारी किए थे। लेकिन अधिकारियों ने न्यायालय के आदेशों की अवहेलना करते हुए रामस्वरूप के भूखण्ड पर बने चारदीवारी व कमरे ध्वस्त कर दिए।

धोलाभाटा क्षेत्र में नगर निगम ने तोड़ी दस अवैध दुकानें

धोलाभाटा क्षेत्र में मुय मार्ग पर मीनाक्षी वाटिका के बाहर मानचित्र स्वीकृत कराए बगैर अवैध रूप से बनी दस दुकानों को नगर निगम की टीम ने जमीदोंज कर दिया। करीब चार घंटे चली कार्रवाई में समारोह स्थल के आगे नाले पर निर्मित दुकानें सूरजमल तंवर की बताई गई हैं। इस दौरान मौके पर शहर के कई थानों से पुलिस बल मौके पर तैनात रहा। निगम के अतिक्रमण प्रभारी पुलिस निरीक्षक रविश सामरिया ने बताया कि क्षेत्रीय पार्षद व अन्य लोगों ने बिना मानचित्र स्वीकृति के दुकानों का निर्माण करने की शिकायत की थी। निगम उपायुक्त के निर्देश पर टीम ने चार घंटे कार्रवाई कर दुकानें ध्वस्त कर दीं।

जारी रहेगी कार्रवाई

निगम आयुक्त देशलदान के निर्देश पर आने वाले दिनों में इस प्रकार की कार्रवाई जारी रखी जाएगी। बिना मानचित्र स्वीकृति के हुए अन्य निर्माण की भी जांच करवाई जा रही है।

Hindi News/ Ajmer / Ajmer : एडीए ने हटाया अतिक्रमण, स्टे के बावजूद कार्रवाई का लगाया आरोप

ट्रेंडिंग वीडियो