अजमेर डीएसओ अंकित पचार को किया बर्खास्त

प्रशिक्षुकाल में मिली शिकायतों में संदिग्ध भूमिका, अनियमितता, राजकीय कार्य में उदासीन व दायित्वों के प्रति लापरवाही बरतने के आरोप

By: manish Singh

Published: 23 Sep 2021, 02:44 AM IST

अजमेर. जिला रसद अधिकारी(द्वितीय) अंकित पचार को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने राजकीय सेवा से बर्खास्त कर दिया। पचार को विभाग ने प्रशिक्षुकाल में मिली शिकायतों में संदिग्ध भूमिका, अनियमितता, राजकीय कार्य में उदासीन व दायित्वों के प्रति लापरवाही बरतने के आरोप में दोषी पाए जाने पर प्रोबेशन (प्रशिक्षुकाल) में ही राज्य सेवा से सेवामुक्त कर दिया। इधर, बर्खास्त डीएसओ अंकित पचार ने कार्रवाई को एकतरफा व न्याय के सिद्धांत के विपरीत बताते हुए उचित स्तर पर पक्ष रखने की बात कही।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव नवीन जैन की ओर से मंगलवार को जारी आदेश के मुताबिक जिला रसद अधिकारी द्वितीय अंकित पचार को ९ अप्रेल को राजकीय कार्यों में उदासीनता के आरोपों का नोटिस जारी किया गया था। पचार ने 11 अगस्त को अपना पक्ष रखा। उनकी ओर से रखे गए पक्ष का अवलोकन किए जाने पर विभागीय नियमों की अवहेलना करते हुए विभागीय प्रकरण में आवश्यक कार्रवाई करने में पूरी तरह नाकाम रहे। पचार को 12 अगस्त को भी व्यक्तिगत सुनवाई का अवसर भी दिया गया ताकि वह अपना पक्ष रख सके। व्यक्तिगत सुनवाई में भी अपना पक्ष नहीं रख सके। जिससे स्पष्ट है कि किन कारणों से वे अपने दायित्वों का निर्वहन नहीं कर पाए। पचार को पूरे प्रकरण में संदेह से परे दोषी मानते हुए परिवीक्षाकाल में उन्हें दिए गए राजकार्यों में पूरी तरह असफल रहना मानते हुए बर्खास्त (राज्य सेवा से सेवामुक्त) करने के आदेश दिए।

गेहूं वितरण में भी ठहराया दोषी
बर्खास्ती आदेश में पचार पर अगस्त २०२१ में जिले में गेहूं परिवहन में लापरवाही बरतने का भी दोषी माना। उसमें बताया कि गेहूं परिवहन के कार्य में जिला रसद अधिकारी प्रथम व द्वितीय की जिम्मेदारी बनती है लेकिन पचार राजकीय दायित्व की आवश्यकताओं के अनुसार कार्य नहीं कर पाए। इससे राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के लाभान्वितों के आवंटित गेहूं अनाधिकृत स्थान पर पाया गया। ट्रांपोर्टर के विरुद्ध कार्रवाई करने, नया ट्रांसपोर्टर नियुक्त करने में लगे समय से राशन के गेहूं को लाभांवितों तक पहुंचाने में विलम्ब भी हुआ।

प्रदेशभर में बर्खास्तगी का विरोध

डीएसओ अंकित पचार के बर्खास्त किए जाने का प्रदेशभर में रसद विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों ने विरोध किया है। अजमेर में राजस्थान खाद्य एवं आपूर्ति सेवा समिति के बैनर तले अतिरिक्त जिला कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम से ज्ञापन सौंपा। जिसमें बताया कि अजमेर डीएसओ अंकित पचार को विधिक प्रक्रिया को अपनाए बगैर जल्दबाजी में बर्खास्त कर दिया गया। उन्होंने आदेश को अवांछनीय व द्वेषता से जारी किया जाना बताया। जिसका समिति व सदस्यगण निंदा करते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से पचार को पुन: बहालकर निष्पक्ष जांच की मांग की।

इनका कहना है...
कार्रवाई बिल्कुल एक तरफा की गई है। जो कि न्याय के सिद्धांतों के विपरित है। मैं विधिक व न्याय संगत प्रक्रिया अपनाते हुए उचित स्तर पर अपना पक्ष रखूंगा।

अंकित पचार, बर्खास्त डीएसओ द्वितीय

manish Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned