script अजमेर में घुसपैठिए भाई-बहन को पुलिस ने किया गिरफ्तार, फर्जी सरकारी दस्तावेज बनाए तो आए राडार पर, अब वापस भेजने की तैयारी | Ajmer police arrest brother sisiter of Bangladesh origin | Patrika News

अजमेर में घुसपैठिए भाई-बहन को पुलिस ने किया गिरफ्तार, फर्जी सरकारी दस्तावेज बनाए तो आए राडार पर, अब वापस भेजने की तैयारी

locationअजमेरPublished: Jan 31, 2024 07:26:59 pm

जयपुर। केंद्र सरकार की सुरक्षा एजेंसियों ने हाल ही तमाम राज्यों की सरकारों को बांग्लादेशी घुसपैठियों को लेकर अलर्ट रहने के लिए कहा था। राजस्थान सरकार की सुरक्षा एजेंसियों ने सतर्कता दिखाई और बांग्लादेशी घुसपैठिए तलाश ही लिए। मामला अजमेर जिले का है। दरगाह पुलिस सहित जांच एजेंसियां जांच पड़ताल में जुटी हैं।

Brother Sister Arrested In Ajmer

जयपुर। केंद्र सरकार की सुरक्षा एजेंसियों ने हाल ही तमाम राज्यों की सरकारों को बांग्लादेशी घुसपैठियों को लेकर अलर्ट रहने के लिए कहा था। राजस्थान सरकार की सुरक्षा एजेंसियों ने सतर्कता दिखाई और बांग्लादेशी घुसपैठिए तलाश ही लिए। मामला अजमेर जिले का है। दरगाह पुलिस सहित जांच एजेंसियां जांच पड़ताल में जुटी हैं। बताया जा रहा है कि सीआईडी ने उनको शक के आधार पर पकड़ा था और बाद में अरेस्ट कर लिया। अब उनको वापस बांग्लादेश भेजने की तैयारी की जा रही है।

यह है मामला
अजमेर जिले के दरगाह इलाके में पिछले दो महीने से नाहिद शेख और उसकी बहन नादिया शेख किराये का कमरा लेकर रह रहे थे। हाल ही में दोनों ने आईडी बनवाया तब जाकर इसका खुलासा हुआ। दोनों नला बाजार इलाके में कपड़े की दुकान में काम करते हैं। दोनो बहन भाई हैं और करीब दो महीने पहले यहां आए थे। उनके पास से कुछ दस्तावेज मिले हैं, जिनमें चौबीस परगना इलाके का नाम और पता अंकित है। पूछताछ के बाद दोनों भाई बहनों को अलवर के डिटेनिंग सेंटर भेज दिया गया।

पहले भी अजमेर आ चुकी है महिला
दरगाह पुलिस ने बताया कि मामला संदिग्ध लगने पर दोनों से सख्ती से पूछताछ की गई तो दोनों ने अपने असली दस्तावेज सौंपे। महिला का नाम महमूद अख्तर व युवक नाहिद हुसैन है। दोनों का पता बांग्लादेश के जिला मुंशीगंज का है। महिला पहले भी दो-तीन बार वीजा से अजमेर आ चुकी है, बाद में दोनों ने भारतीय नागरिकता का बोगस आईडी कार्ड बनवा लिया था। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें

किशोरी का अपहरण करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार, एक फरार

प्रारंभिक पूछताछ में ये भी सामने आया कि भारत-बांग्लादेश बॉर्डर से अवैध तरीके से ट्रेस पासिंग कर ये लोग भारत आते हैं। यहां पहले नौकरी करते हैं और उसके बाद धीरे—धीरे काम बढ़ाकर अपना कारोबार करते हैं। बांग्लादेश में हालात विकट है। अक्सर पैसे या भुगतान कर भारत में चोर रास्तों से एंट्री कराई जाती है।

ट्रेंडिंग वीडियो