scriptAjmer's daughter Gauri honored by the Prime Minister with the National | अजमेर की बेटी गौरी को प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से किया सम्मानित | Patrika News

अजमेर की बेटी गौरी को प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से किया सम्मानित

-कैलीग्राफी को बढ़ावा देने के लिए मिला सम्मान
-वर्चुअल माध्यम से आयोजित हुआ कार्यक्रम

अजमेर

Published: January 25, 2022 06:29:30 pm

अजमेर. अजमेर की बेटी गौरी माहेश्वरी का राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से नवाजा गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को नई दिल्ली में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में गौरी को सम्मानित किया। गौरी को यह पुरस्कार कैलीग्राफी को बढ़ावा देने तथा लोगों को प्रशिक्षित करने के लिए प्रदान किया गया है। पुरस्कार के रूप में गौरी को एक लाख रुपए नगद, प्रशस्ति पत्र एवं पदक प्रदान किया गया। गौरी ने अजमेर कलक्ट्रेट स्थिति एनआईसी कार्यालय में माता मानीक्षा तथा पिता गौरव माहेश्वरी के साथ जिला कलक्टर अंशदीप की मौजूदगी में यह पुरस्कार हासिल किया। इस वर्ष राजस्थान से राष्ट्रीय बाल पुरस्कार प्राप्त करने वाली गौरी पहली बालिका है। गौरी एक ही वाक्य को 150 शैली में कैलीग्राफी के जरिए लिख सकती हैं। अब तक वह 1500 लोगों को इसके लिए प्रेरित भी कर चुकी हैं। गौरी के इस हुनर को परिजनों ने सराहा तथा सहायता की। पिता गौरव ने पीएमओ की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवदेन किया। गौरी का चयन राष्ट्रीय बाल पुरस्कार में चयन होने के बाद पीएमओ की एक टीम गौरी के घर भी आई। इस वर्ष राजस्थान से राष्ट्रीय बाल पुरस्कार प्राप्त करने वाली गौरी पहली बालिका है।
PM Narendra Modi
PM Narendra Modi
बच्चे भी आत्मनिर्भर क्यों नहीं बन सकते हैं

गौरी की मां मीनाक्षी ने कहा कि यह उनके लिए तथा राजस्थान के लिए गौरव का क्षण है। गौरी की मां ने बताया कि एक दिन बेटी ने प्रधानमंत्री का भाषण सुना इस दौरान वह लोगों को आत्म निर्भर बनने के लिए प्रेरित कर रहे थे। तभी बेटी ने पूछा बड़ों के अलावा बच्चे आत्म निर्भर क्यों नहीं बन सकते है। इस पर मां ने उन्हे केलीग्रॉफी को बढ़ावा देने के लिए कहा।
बनना चाहती है मोटीवेशनल बिजनस स्पीकर

गौरी ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि वे एक ऐसा एप बनाना चाहती हैं जहां लोग अपना टैलेंट दिखा सके। इसके अलावा वह बनना चाहती है मोटीवेशनल बिजनस स्पीकर बन का लोगों को मोटीवेट करना चाहती हैं। गौरी का कहना है कि सभी में कोई ना कोई टैलेंट है बस उसे पहचानने की जरूरत है।
कई एनजीओ से जुड़ी

कैलीग्राफी में समाज को जागरूक करने के लिए कई एनजीओ से भी जुड़ी हैं। ऑन लाइन वर्कशॉप में ब्लांड बच्चों को भी केलीग्राफी के लिए प्रेरित कर चुकी है।एचआईवी पीडि़त लोगों को भी प्रेरित कर चुकी हैं। आर्ट एंड क्राफ्ट को भी बढ़ावा दे रहीं हैं। कुकिंग का भी शौक है। 9-10 वर्ष में ही मेहंदी, ब्यूटी पार्लर का भी कोर्स किया। मेयो गल्स स्कूल की 8 की छात्रा गौरी पढ़ाई में भी अव्वल है। गौरी अपने माता पिता के साथ अजमेर के शास्त्री नगर में रहती हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्ममां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेरपाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अलापा कश्मीर राग कहा- शांति सुनिश्चित करने के लिए धारा 370 को करें बहाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.